WHO एक्‍सपर्ट ने बताया,कैसे निपटे भारत कोरोना की दूसरी लहर से

Spread the love

देश के विभिन्न राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति गंभीर है और इन प्रदेशों में रोजाना मरीजों की बढ़ती संख्या तथा प्रतिदिन होने वाली मृत्यु के आंकड़े चिंता बढ़ाने वाले हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की दक्षिण-पूर्वी एशिया की क्षेत्रीय निदेशक डॉक्टर पूनम खेत्रपाल सिंह का कहना है कि कोविड उचित व्यवहार को अपनाकर बहुत हद तक वायरस और उसके नए स्वरूप को फैलने से रोका जा सकता है।

डॉक्टर खेत्रपाल के सुझाव:-

-कोविड उचित व्यवहार को अपनाकर बहुत हद तक वायरस और उसके नए स्वरूप को फैलने से रोका जा सकता है।
-जांच, संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की पहचान करना बहुत जरूरी है
-कोविड मरीजों को पृथक-वास में रखना और उनका सही उपचार करने जैसे कदम वायरस के प्रसार को रोकने की दृष्टि से महत्वपूर्ण कदम हैं।
-सार्वजनिक स्वास्थ्य एवं सामाजिक एहतियात के कदमों को सख्ती से लागू कर वायरस के संक्रमण को रोका जा सकता है।
-वायरस के स्वरूपों और इनकी मौजूदगी के बारे में उपलब्ध जानकारी व्यवस्थित नहीं है। इसके बारे में व्यवस्थित जानकारी नहीं मिल पाना चिंता का विषय है। ऐसे में हम सभी को मिलकर इस वायरस को फैलने से रोकना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.