भाजपा विधायक की सुरक्षा में कटौती पर हंगामा, नीतीश सरकार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित

भारतीय जनता पार्टी उत्तरी मंडल में गया महानगर कार्यसमिति की बैठक मंडल अध्यक्ष शंभू यादव की अध्यक्षता में बुधवार को छोटकी नवादा में सम्पन्न हुई। बैठक पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर आरंभ की गई। प्रभारी के रूप में जिला उपाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद  एवं जिला मंत्री संतोष ठाकुर प्रभारी मौजूद थे। गत बैठक की पुष्टि की गई। बैठक में याचिका समिति के सभापति सह विधायक डॉ प्रेम कुमार के सरकारी आवास पर चोरी की घटना की निंदा करते हुए प्रस्ताव पास किया गया। 8 बार विधायक रहने के बाद भी उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया। लेकिन वे बिहार के बड़े नेता के रूप में पहचान बनाए हुए हैं। वर्तमान में बिहार विधानसभा में याचिका समिति के सभापति के पद पर है। इनके सरकारी सुरक्षा में कटौती किये जाने के चलते सरकारी आवास पर चोरी की घटना हुई है। बैठक में डॉ कुमार की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अविलंब व्यक्तिगत सुरक्षा बढ़ाने की मांग की गई।

गया से आठ बार के विधायक डॉ प्रेम कुमार 10 जुलाई  के अपने विधान सभा क्षेत्र गए थे। 11 जुलाई को उनका बेटा प्रेम सागर भी किसी काम से कोलकाता चले गए। इस बीच 13 जुलाई को उनकी अनुपस्थिति में पुलिस महकमा ने उनके आवास पर तैनात गार्ड को वापस बुला लिया। मौके का फायदा उठाकर बेखौफ चाेरों ने उनके सरकारी आवास पर हाथ साफ कर दिया। 17 जुलाई को जब उनके बेटे प्रेम सागर लौटे तो पता चला कि उनके अलमीरा के लॉकर से 2.25 लाख कैश और एक चांदी का कटोरा गायब है। उन्‍होंने 18 जुलाई को सचिवालय थाना में एफआइआर दर्ज कराया। पुलिस ने चोर को पकड़ने के लिए दो दिन का वक्‍त मांगा, मगर आज तक पुलिस के हाथ खाली हैं। हालांकि पुलिस अ‍ब चोरी में घर के ही किसी पहचानवाले के हाथ होने की आशंका जता रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *