बिहार चुनाव में JDU के खिलाफ हुई थी साजिश, रोहतास यात्रा से पहले उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान

बिहार जनता दल यूनाइटेड के दिग्गज नेता और पार्टी संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने बड़ा बयान दिया है. कुशवाहा ने कहा है कि बिहार विधानसभा के दौरान जेडीयू के खिलाफ साजिश की गई. हालांकि उन्होंने साजिश क्यों और किसने की इसपर कुछ नहीं बोलें. वहीं कुशवाहा के इस बयान से सियासी गलियारों में हड़कंप मच गया है. बिहार यात्रा पर निकलने से पहले उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार के कहने पर कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि बिहार में पांच सालों तक एनडीए की सरकार नीतीश कुमार के नेतृत्व में चलेगी. सरकार के बीच सभी दलों के सामंजस्य में कोई कमी नहीं है.

बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा आज से बिहार में जेडीयू कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए दूसरे चरण की यात्रा निकाल रहे हैं. यह यात्रा रोहतास के डेहरी ऑन सोन से शुरू होगी. कुशवाहा इससे पहले मधुबनी, दरभंगा और चंपारण के जिलों का यात्रा कर चुके हैं. कुशवाहगा जेडीयू में शामिल होने के बाद लगातार कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं. बताते चलें कि बिहार में 2020 के विधानसभा चुनाव में जेडीयू एनडीए गठबंधन में बीजेपी, हम और वीआईपी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा. इस चुनाव में जेडीयू तीसरे नंबर की पार्टी बन गई. चुनाव परिणाम सामने आने पर जेडीयू को 44 सीटों मिली. 2015 के चुनाव में जेडीयू को 71 सीटें मिली थी. इधर, उपेंद्र कुशवाहा ने एक बार फिर दोहराया से कि देश में जातीय जनगणना होनी चाहिए. कुशवाहा ने कहा कि जनगणना में जाति का कॉलम भी होना ही चाहिए. उन्होंने इसके पीछे तर्क दिया कि किसी भी योजना को बनाने का आधार जनसंख्या ही है. कुशवाहा ने इसी के साथ कहा कि जेडीयू को नंबर वन पार्टी बनाने का हमने संकल्प लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *