पेट्रोल और डीजल की अनियंत्रित बढ़ती कीमत मोदी सरकार की विफलता : राजू दानवीर

जन अधिकार युवा परिषद ने देश में पेट्रोल और डीजल की अनियंत्रित बढ़ती कीमतों पर जोरदार हमला बोला है। युवा परिषद के प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने कहा है कि पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत में बढ़ोतरी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की भारी विफलता है। इस सरकार में वहीं लोग हैं, जो सत्ता में आने से पूर्व महंगाई के मुद्दे पर हंगामा करते थे। लेकिन, अब सरकार में आने के बाद जनता को लूटने का काम कर रहे हैं। ऐसे में हम कहना चाहते हैं कि बीते 7 साल में जनता महंगाई से त्रस्त है, इसलिए बहुत हुई महंगाई की मार, जनता पर रहम करो सरकार। दानवीर ने आगे कहा आज बिहार के भी कई जिलों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये के पार चली गयी है, जिससे ट्रांसपोर्ट महंगा हो गया है। इसका प्रभाव तकरीबन सभी चीजों के मूल्यों पर पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल में आपदा को अवसर बनाकर केंद्र की मोदी सरकार और बिहार सरकार लगातार बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों पर नियंत्रण करने की बजाय भारी भरकम टैक्स वसूलकर लोगों की जेब पर डाका डाल रही है। एनडीए सरकार ने तो जनता का खून चूसने और परेशान करने की कसम ही खा रखी है।

उन्होंने कहा कि  मोदी सरकार ने पिछले सात साल में पेट्रोल-डीजल पर टैक्स में बार-बार भारी बढ़ोतरी कर कीमतों को रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा दिया है। इस सरकार की गलत नीतियों के कारण बिहार समेत देश के कई हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें आज 100 रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर चुकी है और डीजल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर होने के कगार पर है। उन्होंने कहा कि साल 2012 में जब इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत अधिक थी, तब भी देश में इतनी महंगाई नहीं हुई थी और पेट्रोल 70 रुपये लीटर मिल रहे थे। आज जब इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत आधी है, फिर भी सरकार जनता से ज्यादा पैसे वसूली कर उन्हें कंगाल बनाने में लगी है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने 7 साल में 20.56 लाख करोड़ रुपये टैक्स के रूप में वसूले हैं। इससे यह स्पष्ट होता है कि भाजपा नीत एनडीए की हर नीति का उद्देश्य होता है- देशवासियों को लूटना। लेकिन, अब जाप इस लूट वाली नीति को बर्दाश्त नहीं करेगी और अगर पेट्रोल डीजल के दरों में कमी नहीं हुए तो पार्टी व्यापक आंदोलन को मजबूर होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *