बेटियो के साथ भेदभाव कब तक और आखिर क्यौ । हमे भी तो समझो....

Generic placeholder image
  लेखक: कुलदीप सिंह

हमे भी तो समझो............
ये कहानी यू पी के छोटे से गॉव  की हैं जहाँ छोटी सी खुशाहाल फैमिली रहती थी उस परिवार मे सिर्फ़ 2 भाई  बहन रिंकी और राहुल,  मम्मी पापा  और दादा जी साथ रहते थे  दोनों भाई बहन समझदार बहुत थे एक दूसरे से प्यार भी बहुत करते थे, बेटे तो माँ के लाडले होते हैं और पापा की लाडली उनकी बेटी, जिनको आज के जमानें मे पापा की परी भी कहा जाता हैं
राहुल एक अच्छी कंपनी मे जॉब कर रहा था और रिंकी ने अभी अभी देहरादून Dehradun  कॉलेज मे एडमिशन Admission लिया ही था क्योंकि रिंकी को  एक बेस्ट ऐक्टर Actress बनने का सपना जो पूरा करना था, तो रिंकी की मुलाकात अपने classmate से हो जाती हैं दोनों एक साथ सभी काम करते, ऐसे ही रिंकी का 2 साल का कोर्स कैसे पूरा हो जाता हैं पता नही चलता की कब दोनों मे प्यार हो जाता हैं  
रिंकी जैसे अपना कॉलेज पूरा कर घर आती हैं तो रिंकी को पता चलता हैं कि उसके भाई ने लव मैरेज love marriage कर ली हैं और घर वालो ने कुछ भी नही कहा खुशी खुशी दोनों का स्वागत  भी किया । 
रिंकी भी खुश हो गयी कि जब घर वालों ने भाई की सादी को स्वीकार कर लिया हैं तो  मैं भी अपनी  मन की बात  man ki bat को घर वालो को बता सकती हुं  , रिंकी ने अगली सुबह जब  परिवार के सभी सदस्य एक साथ बैठकर खाना खा रहे थे तो सबके सामने एक लिफाफा रख दिया उस मे रिंकी की शादी की तस्वीरें थी जैसे ही राहुल ने तस्वीरें देखी तो राहुल  के कुछ पूछने से पहले ही रिंकी के पापा ने रिंकी का हाथ पकड़ कर घर से बाहर out from Home  निकाल दिया, और  बोले  कि आज से तुम इस परिवार का हिस्सा नही हो, जो लड़किया अपने माँ बाप की इज़्ज़त का ख्याल नही रख सकती, उनके लिए मेरे घर मे कोई जगह नही हैं और  इस तरह उसे घर से निकाल दिया लेकिन सवाल यही है कि समाज में आज भी  इतना भेदभाव आखिर क्यौ आखिर क्यौ  .. किसी ने सही लिखा है कि ....

      ------  बेटियों के जन्म पर लक्ष्मी का रूप देते है
                थोड़ी बड़ी हो जाने पर घर के आंगन की रोनक बना देते हैं ।
                20 की उम्र होने पर शादी के लायक बना देते है
                शादी होते ही, दुसरो की जिमेदारी बना देते हैं
                अगर अपनी पसन्द से शादी करे  तो सारे रिश्ते तोड़ देते हैं ।

love marriage Girls Rights Girls Freedom headlines India Headlines India news

Comment As:

Comment (0)