कोरोना वायरस के इलाज और भविष्य की महामारियों से लड़ने के लिए दवा के नये लक्ष्य की तलाश पूरी

वैज्ञानिकों ने कोविड-19 के लिए जिम्मेदार सार्स-सीओवी-2 वायरस का इलाज करने और भविष्य की वैश्विक महामारियों से निपट सकने में सक्षम दवा के लिए एक नये लक्ष्य का पता लगाया है।अमेरिका की नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी फिनबर्ग स्कूल ऑफ मेडिसिन के अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि वैज्ञानिकों को संभावित अगली कोरोना वायरस वैश्विक महामारी की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।फिनबर्ग स्कूल ऑफ मेडिसिन में माइक्रोबायोलॉजी-इम्युनोलॉजी के प्रोफेसर कारला सैचेल ने कहा कि भगवान न करे कि हमें इसकी जरूरत पड़े लेकिन हम तैयार रहेंगे।”टीम ने इससे पहले वायरस प्रोटीन एनएसपी16 के ढांचे को चित्रित किया था जो सभी कोरोना वायरसों में मौजूद रहता है।नया अध्ययन ऐसी अहम सूचनाएं उपलब्ध कराता है जो भविष्य के कोरोना वायरसों के साथ ही सार्स-सीओवी-2 के खिलाफ दवा के विकास में मददगार हो सकती हैं।सैचेल ने कहा है कि सार्स-सीओवी-2/ कोविड-19 वैश्विक महामारी और भविष्य के कोरोना वायरसों के संक्रमणों से निपटने के लिए दवा के विकास को लेकर नये दृष्टिकोणों की बहुत आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *