दरभंगा विस्फोट में आया ISI का नाम, पुलिस ने शामली से पिता-पुत्र को पकड़ा, अब एनआईए करेगी जांच

इस वक्त बिहार के दरभंगा से बड़ी खबर सामने आ रही है। दरभंगा रेलवे स्टेशन पर पार्सल ब्लास्ट मामले के तार शामली से जुड़ रहे हैं। ATS के इनपुट पर शामली से ही पिता और पुत्र को पुलिस ने पकड़ा है। बताया जा रहा है कि दोनों लोग कैराना के निवासी हैं। बताया जाता है कि इन्हीं की आईडी पर सिम कार्ड लिया गया था, जिसका नंबर पार्सल पर मिला है। दूसरी ओर मामले में पाकिस्तानी एजेंसी ISI का नाम सामने आने के बाद गृह मंत्रालय ने इसकी जांच NIA को सौंपने का फैसला लिया है। गुरुवार को इसके लिए आदेश भी जारी कर दिया गया। अभी तक ATS इसकी जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार, इस मामले को लेकर एनआईए ने अपने लखनऊ यूनिट में प्राथमिकी दर्ज की है। शुक्रवार को मामले की जांच के लिए NIA की 6 सदस्यीय टीम बिहार जाएगी। टीम के सीधे दरभंगा जाने की संभावना है, जहां वह रेलवे स्टेशन ग्राउंड जीरो पर जाकर पार्सल ब्लास्ट मामले का अपने स्तर से छानबीन शुरू करेगी।

बता दें कि बिहार के दरभंगा स्टेशन पर 17 जून को विस्फोट हुआ। जांच में आया था कि सिकंदराबाद से आई एक ट्रेन से दरभंगा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर एक पार्सल उतार कर प्लेटफार्म एक पर पर लाया गया। इसी दौरान उसमें विस्फोट हुआ और पार्सल में पैक कपड़े की गठिया में आग लग गई। जब रेलवे व GRP ने आग बुझाने के बाद गठरी की जांच की तो उसमें छोटी बोतल मिली, जिसमें लिक्विड भरा हुआ था। कपड़े की इस गठरी को पार्सल के द्वारा मोहम्मद सुफियान नामक व्यक्ति ने सिकंदराबाद से दरभंगा भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *