डॉक्टर ने ऑपरेशन कर बच्ची को दी नई जिंदगी, TMG एनकोलोसिस बीमारी से जूझ रही थी मिशा, 5 घंटे तक चला ऑपरेशन

मुजफ्फरपुर की 16 वर्षीय मिशा अब अपने मुंह से खाना खाने में सक्षम है। वह पिछले 10 साल से ठीक से खाना नहीं खा पाती थी। वह TMG एनकोलोसिस ( मुंह नहीं खुलना) नामक बीमारी से ग्रसित थी। उसके परिजन सभी जगहों पर इलाज कराकर थक चुके थे। तभी उन्हें किसी ने शहर के मशहूर डेंटल और मैग्जिलोफेशियल सर्जन डॉ. गौरव वर्मा के बारे में बताया। वे लोग डॉक्टर से मिले और बीमारी के बारे में बताया। डॉक्टर वर्मा ने इस जटिल बीमारी का इलाज शुरू किया। पांच घंटे तक मैराथन सर्जरी चली। इसमें मिशा के सिर के अंदर से मांस के कुछ हिस्सों को काटकर जबड़े के जॉइंट के हिस्से में डाला गया। इस सर्जरी में डॉक्टर विमोहन ने उनका साथ दिया। लगातार पांच घंटे तक थका देने वाली यह सर्जरी आखिरकार सफल हुई।

डॉ. वर्मा ने कहा- “यह सर्जरी काफी चैलेंजिंग और जटिल रही। डॉ. विमोहन का सहयोग और मार्गदर्शन समय-समय पर मिलता रहा। इससे यह सफल हुआ। मिशा के परिजन ने तहे दिल से धन्यवाद दिया। अब मिशा का मुंह पूरा खुलता है और वह खाना खाने में सक्षम है।’ परिजन कहते हैं- “मिशा की ज़िंदगी में सबकुछ था, पर वह ठीक से खाना नहीं खा पाती थी। जबकि शुरुआती दिनों में वह बिल्कुल ठीक थी। छह वर्ष की उम्र से उसे इस बीमारी ने जकड़ना शुरू कर दिया, जो देखते-देखते गंभीर हो गया।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *