दरभंगा ब्लास्ट के आरोपी आतंकियों को आज किया जाएगा बेउर में शिफ्ट, NIA के स्पेशल वार्ड में रहेंगे

दरभंगा पार्सल ब्लास्ट के आरोपी आतंकियों की आज रिमांड की मियाद पूरी हो गई है। आज उन सभी को पटना की बेउर जेल में शिफ्ट किया जाएगा। इसके लिए बेउर जेल में बनाए गए एनआईए के स्पेशल वार्ड को खाली कराया जा रहा है। दरभंगा ब्लॉक के चार आरोपी आतंकियों में से सलीम की तबीयत खराब होने की वजह से उसे अस्पताल की सेल में रखा गया है। जबकि, कफील, इमरान मलिक और नासिर मलिक के लिए एनआईए की स्पेशल सेल को आज पूरी तरह दुरुस्त कर लिया गया । जेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सभी आतंकियों के लिए उनके खाने की व्यवस्था उनके वार्ड में ही की जा रही है। बेऊर जेल की सुरक्षा तीन स्तरीय कर दी गई है । नमाज भी सेल में ही पढ़ने की इजाजत है।

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी आतंकियों को रखने की ऐसी व्यवस्था की गई है कि वह किसी एक दूसरे से आपस में मिलजुल नहीं सके। इसके अलावा, उनके नमाज पढ़ने के लिए सेल में ही व्यवस्था कर दी गई है। सामूहिक रूप से नमाज पढ़ने पर इन्हें पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है। बेऊर जेल की सुरक्षा तीन स्तरीय कर दी गई है। किसी भी स्थिति परिस्थिति में जेल में मिलने वालों के लिए तीन स्तर की सुरक्षा व्यवस्था से गुजरना पड़ेगा। मुख्य गेट पर बीएमपी के एक प्लाटून को बढ़ा दिया गया है। बीएमपी के प्लाटून को अपनी पहचान बताने के बाद दूसरे स्तर में सैफ के जवानों को अपना पहचान दिखाना होगा और इसके बाद जेल के कर्मी पूरी जांच-पड़ताल के बाद किसी भी स्थिति में जेल के अधिकारियों के आदेश के बाद कैदियों से मुलाकात संभव हो पाएगा ।

बेउर जेल के अंदर कई आंतकी बंद जेल की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जेल में बंदियों से मुलाकात के लिए ई- मुलाकात की व्यवस्था की गई है। महिलाओं के लिए जेल प्रशासन द्वारा एक मोबाइल उपलब्ध करा दी गई है, जिसके माध्यम से वे फिलहाल जेल के अंदर अपने परिजनों का हालचाल जान सकेंगे। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उनके बातचीत का वॉइस रिकॉर्डिंग भी किया जा सकता है ताकि वे जेल की सुरक्षा में सेंध ना लगा सके। जेल की सुरक्षा को लेकर कारा अधीक्षक दिन भर शुक्रवार को अधिकारी और कर्मियों के साथ बैठक में मशगूल रहे। बेउर जेल के अंदर फिलहाल गांधी मैदान ब्लास्ट, बोधगया ब्लास्ट और घोड़ासहन ब्लास्ट के आतंकी बंद है। वर्ष 2017 में जेल में बंद गांधी मैदान ब्लास्ट के आतंकवादियों ने खाना को लेकर जेल के अंदर जमकर हंगामा किया था। इन आतंकियों ने जेल के कर्मियों के साथ मारपीट भी की थी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *