टीचर्स को पेड़ से बांधा, फिर बरसाए थप्‍पड़ : छात्र बोले, प्रैक्टिकल में नंबर न देकर हमारा भविष्‍य खराब कर दिया, हेडमास्‍टर और 11 स्‍टूडेंट पर FIR 

Generic placeholder image
  लेखक: हेडलाइंस डेस्क

दुमका। झारखंड के दुमका में एक हैरान करने का वाला मामला सामने आया है। प्रैक्टिकल में कम मार्क्‍स देने पर स्‍टूडेंट ने अपने टीचर्स को पेड़ से बांधा, फिर उनकी जमकर पिटाई की। हालांकि, इस मामले में हेड मास्‍टर और 11 स्‍टूडेंट के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

टीचर को पेड़ से बांधा 
मामला झारखंड के दुमका जिले का है। यहां के पीएस इंचार्ज नित्‍यानंद भोक्‍ता ने बताया कि टीचर सुमन कुमार और क्‍लर्क सोनराम चौरे ने हेड मास्‍टर और 11 स्‍टूडेंट के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। उनका आरोप है कि हेडमास्‍टर के कहने पर स्‍टूडेंट ने उन्‍हें पहले पेड़ से बांधा फिर उनकी जमकर पिटाई की। यही नहीं छात्रों ने बंधक बनाकर कई थप्‍पड़ भी मारे। 

स्‍टूडेंट बोले, भविष्‍य खराब कर दिया 
हालांकि, यह मामला सामने आने शिक्षा विभाग में खलबली मच गई। आनन फानन में ब्‍लॉक एजुकेशन एक्‍सटेंशन ऑफिसर सुरेंद्र हेबराम ने मौके पर जाकर मामले को देखा और टीचर्स से बातचीत की। सुरेंद्र ने बताया कि जब स्‍कूल में स्‍टूडेंट से बात की तो उन्‍होंने बताया कि टीचर्स ने बिना किसी कारण के उन्‍हें प्रैक्टिकल में कम मार्क्‍स दिए हैं। इससे उनका भविष्‍य खराब हो गया है। टीचर्स हमें कम नंबर देने का कारण भी नहीं बता सके। यानि उन्‍होंने जानबूझकर हमारा भविष्‍य खराब कर दिया। 

नहीं दे सके जवाब 
ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर ने बताया कि इस मामले जब टीचर्स ने पूछा गया तो वे इस बाद कोई सार्थक जवाब नहीं दे सके। 

रिजल्‍ट के मार्क्‍स प्रैक्टिकल में नहीं 
इस मामले में टीचर सुमन कुमार ने बताया कि स्‍टूडेंट ने बहाने से हमें बुलाया, और कहा कि आपने हमारा भविष्‍य खराब कर दिया है। जबकि मैंने कहा कि यह इस कारण हुआ कि स्‍टूडेंट के प्रैक्टिकल के मार्क्‍स रिजल्‍ट में नहीं चढाए गए थे। जबकि यह हेडमास्‍टर के कहने पर हुआ था। इसमें हम कुछ नहीं कर सकते थे। हालांकि, अब इस मामले के बाद शिक्षा विभाग के अधिकारी जांच में जुटे हैं।  

 

teacher beaten by student Dumka Haedmaster Headlines India Headlines India News Jharkhand News Ranchi teacher

Comment As:

Comment (0)