शादियों में अश्लील डांस-गानों पर सुशील मोदी को आया गुस्सा, CM नीतीश को भी लिया निशाने पर

बिहार में कोरोना गाइडलाइंस के बावजूद भोजपुरी और मगही भाषा (Bhojpuri and Magahi Language)में बनने वाले अश्लील गानों (Obscene Songs)पर लगातार लोगों के ठुमकने के मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच भाजपा के राज्‍यसभा सांसद और बिहार के पूर्व डिप्‍टी सीएम सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने आपत्ति जताई है. यही नहीं, उन्होंने इन पर रोक ना लगाने को लेकर नीतीश सरकार को भी लपेटे में लिया है. इस साथ सुशील मोदी ने बिहार सरकार से अपील की है कि ऐसे गानों पर तत्‍काल रोक लगाई जाए. इस बाबत भाजपा सांसद ने लगातार कई ट्वीट किए. उन्‍होंने लिखा, ‘ जब बारात प्रशासन की अनुमति के बिना नहीं निकलती, तब प्रशासन को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि बारात में कोई भी व्यक्ति अश्लीलता, शराबखोरी और दबंगई दिखाने के दुस्साहस न कर सके. बिहार को शर्मसार करने वाली ऐसी प्रवृत्ति पर प्रभावी अंकुश लगाना चाहिए.’

इसके साथ सुशील मोदी ने एक अन्‍य ट्वीट में लिखा, ‘विवाह और बारात हमारी संस्कृति का हिस्सा हैं, लेकिन बारात के दौरान पिंजरानुमा वाहनों में लड़कियों की अश्लील ढंग से नुमाइश करना, शराब पीकर नाचना और बारात के कन्यापक्ष के द्वार पहुंचने पर हर्ष फायरिंग करना परम्परा नहीं, बल्कि सामाजिक विकृति है.’ इसके अलावा उन्‍होंने एक अन्‍य ट्वीट में लिखा, ‘ जिस तरह राज्य सरकार ने महिलाओं की अस्मिता बचाने और घरेलू हिंसा पर कारगर रोक लगाने के लिए पूर्ण शराबबंदी लागू की थी, उसी तरह अश्लील गानों और वीडियो पर सख्ती से रोक लगायी जानी चाहिए.’ यही नहीं, भाजपा के राज्‍ससभा सांसद सुशील कुमार मोदी एक और बड़ी बात कही है. उन्‍होंने लिखा, ‘ हिंदी भाषी बिहार के विभिन्न अंचलों में कई बोलियां प्रचलित हैं, लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भोजपुरी और मगही का सबसे ज्यादा दुरुपयोग अश्लील ऑडियो-वीडियो बना कर महिलाओं को अपमानित-लज्जित करने में धड़ल्ले से हो रहा है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *