राजद का 25 वां स्थापना दिवस आज, कुछ ही देर में लालू प्रसाद करेंगे उद्घाटन, 1:20 पर कार्यकर्ताओं को करेंगे संबोधित

लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल अपना 25 वां स्थापना दिवस मना रही है। पार्टी ने इस अवसर पर सिल्वर जुबली समारोह का आयोजन वीरचंद पटेल, पटना स्थित पार्टी कार्यालय में किया है। पूरे कार्यालय को खूबसूरती से सजाया गया है। आयोजन की सबसे खास बात यह कि लालू प्रसाद यादव लंबे समय के बाद आम लोगों के साथ जुड़ेंगे। वे 11 बजे कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद दोपहर 1.20 बजे लालू प्रसाद का भाषण होगा। हालांकि, वे वर्चुअली माध्यम से कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।

लालू प्रसाद साल 1997 में जनता दल से अलग हुए थे और अपनी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल बनाई थी। यह पार्टी बिहार की सबसे बड़ी पार्टी है और इसका सबसे बड़ा जनाधार इसका माई समीकरण है जिसमें 16 फीसदी यादव और 16 फीसदी मुसलमानों का तगड़ा वोट बैंक है। वहीं रजत जयंती समारोह का उद्घाटन लालू प्रसाद यादव 11.00 बजे दिल्ली से ही करेंगे। खास बात यह कि दलितों के बड़े नेता रहे रामविलास पासवान की जयंती भी पार्टी मनाएगी और 10.50 में रामविलास पासवान के चित्र पर माल्यार्पण होगा। लोजपा में इन दिनों दोनों दो गुट हो गया है और एक गुट के नेता स्व. रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान हैं और दूसरे गुट के स्व. रामविलास पासवान के भाई पशुपति कुमार पारस। चिराग पासवान खुद को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हनुमान बताते हैं और दूसरी तरफ लालू प्रसाद सांप्रदायिकता के सवाल पर नरेन्द्र मोदी का विरोध करते रहे हैं। इसलिए रामविलास पासवान की जयंती मनाने के बड़े राजनीतिक मतलब हैं। चिराग और तेजस्वी दोनों एक दूसरे को भाई भी कहते रहे हैं। सबसे खास बात यह कि चिराग और तेजस्वी के साझा राजनीतिक दुश्मन नीतीश कुमार हैं।

यहां समझने वाली बात यह भी है कि राष्ट्रीय जनता दल के रजत जयंती समारोह में 11.00 बजे लालू प्रसाद द्वारा उद्घाटन से पहले ही स्व. रामविलास पासवान के चित्र पर माल्यार्पण होगा। कार्यक्रम के उद्घाटन के बाद 11.15 बजे स्वागत भाषण होगा। 11.30 बजे पार्टी के वरिष्ठ नेता अपने उद्गार रखेंगे। 12.30 बजे अध्यक्षीय भाषण होगा। आयोजन के मुख्य अतिथि तेजस्वी यादव हैं। तेजस्वी 12.45 बजे भाषण करेंगे। दोपहर 1.20 बजे लालू प्रसाद का भाषण होगा। इसका इंतजार सभी को कई दिनों से है कि लालू प्रसाद क्या संदेश देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *