रविशंकर प्रसाद का खराब रहा परफॉरमेंस! BJP सांसद बोले-अच्छा काम नहीं करने वाले ‘मंत्रियों’ को हटाया गया

मोदी कैबिनेट का विस्तार हुआ है और कई मंत्रियों की छुट्टी भी हो गई है। बिहार से सांसद रविशंकर प्रसाद जो मोदी कैबिनेट में कद्दावर मंत्री थे उनकी भी छुट्टी कर दी गई है। रविशंकर प्रसाद तीन-तीन विभागों का जिम्मा संभाल रहे थे। लेकिन पीएम मोदी ने पटना साहिब के सांसद रविशंकर प्रसाद से इस्तीफा ले लिया। उनके इस्तीफे की वजह को लेकर तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। केंद्रीय मंत्री पद से हटाये जाने के पीछे ट्वीटर विवाद व खराब परफॉरमेंस बताया जा रहा। इधर बीजेपी के सांसद ने साफ कहा है कि पीएम मोदी ने 2 साल बाद सभी केंद्रीय मंत्रियों के कामकाज की समीक्षा की और खराब प्रदर्शन करने वालों की छुट्टी की गई है।

मुजफ्फरपुर से बीजेपी सांसद अजय निषाद ने पटना में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में किन्हें रखना है और किसे नहीं यह प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार है। उन्होंने कहा कि 2 सालों से जो भी मंत्री हैं उनके कार्यकाल की पीएम मोदी ने समीक्षा की है। कुछ मंत्री बदले भी गये हैं. जिनका कार्य बढ़िया नहीं था उन्हें चेंज किया गया है। एक तरह से देखेंगे तो यह सबसे युवा मंत्रिमंडल है। पीएम मोदी ने काम करने वालों की टीम बनाई है। उन्होंने कहा कि रविशंकर प्रसाद को क्यों हटाया गया ,कोई कारण रहा होगा यह हम नहीं बता सकते है। बीजेपी सांसद ने कहा कि हो सकता है कि रविशंकर प्रसाद को मंत्री पद से हटाकर कोई दूसरी जिम्मेदारी देना चाहते हों।

वहीं, बीजेपी विधायक हरिभूषण बचौल ने कहा है कि रविशंकर प्रसाद मंत्री पद से हटे हैं तो क्या हुआ। हो सकता है प्रमोशन पाकर महामंत्री बन जायें। भाजपा कार्यालय पहुंचे बिस्फी विधायक ने रविशंकर प्रसाद को मंत्री पद से हटाए जाने को लेकर पूछे गये सवाल पर कहा कि मंत्री से हटाए गए हैं, हो सकता है कि अब उनका प्रमोशन कर दिया जाए, उन्हें महामंत्री की पद की जिम्मेदारी दी जाए।  हमारी पार्टी हो सकता है कि उन्हें संगठन में बड़ी जिम्मेदारी सौंपे। केंद्र में वह मंत्री रहें या संगठन की जिम्मेदारी संभालें, हमारे यहां दोनों पैरेलल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *