बिहार में आएगा सियासी तूफान!, तेजस्वी-चिराग ने एक-दूसरे की ओर कदम बढ़ा भाई बताया

बिहार की राजनीति में दो युवा नेताओं पर राज्य के साथ बाहर के लोगों की भी निगाहें टिकी हुई हैं। लालू प्रसाद और नीतीश कुमार की राजनीति की जगह धीरे-धीरे युवा नेतृत्व सामने आ रहा है। दलितों के राष्ट्रीय स्तर के नेता रामविलास पासवान का निधन हो चुका है और उनके निधन के बाद उनकी पार्टी में चाचा-भतीजा के बीच आर-पार वाली सियासी लड़ाई चल रही है। राजनीतिक कार्यकर्ताओं के बीच तेजस्वी यादव और चिराग पासवान को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा है। क्या ये दोनों युवा नेता मिलकर अपने राजनीतिक दुश्मनों को निबटाएंगे, इस पर लोग बात कर रहे हैं। दोनों ने एक -दूसरे को अपना भाई कहा है। कभी राजनीति में लालू प्रसाद को बड़ा भाई और नीतीश कुमार को छोटा भाई कहा जाता था, लेकिन तेजस्वी और चिराग के भाई होने और लालू-नीतीश के भाई होने में अंतर है। चिराग और तेजस्वी दोनों ने एक दूसरे की तरफ एक-एक कदम बयानों से बढ़ाया जरूर है, लेकिन चिराग गुट को केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार का इंतजार है कि उसमें चिराग पासवान को जगह मिलती है या पारस गुट को !

तेजस्वी यादव और चिराग पासवान दोनों के राजनीतिक दुश्मन नीतीश कुमार हैं। चिराग, नीतीश कुमार को जेल भिजवाने तक की बात कहते रहे हैं और तेजस्वी यादव, नीतीश कुमार को घोटालों का पितामह कहते हैं। भास्कर ने RJD और LJP कार्यकर्ताओं से आगे की रणनीति पर बात की। RJD के वरिष्ठ नेता प्रेम कुमार मणि कहते हैं कि चिराग पासवान जिनके साथ हैं वे उनकी स्थिति हास्यास्पद बना रहे हैं। उनके घर में जो टूट हुई है उसमें BJP- JDU की भूमिका है। वे चुनाव के समय महागठबंधन में साथ जुड़ जाते तो आज बड़ी ताकत होते। LJP का निर्माण BJP की प्रशस्ति के लिए नहीं हुई थी। हनुमान के साथ जो हुआ, नहीं होना चाहिए था। हनुमान को अपनी ताकत का अहसास होना चाहिए। रामविलास पासवान, चिराग के कहने पर ही BJP के साथ गए पर रामविलास पासवान इसलिए जाने जाते हैं कि उन्होंने गोधरा के बाद केन्द्रीय मंत्री पद से त्याग-पत्र दिया था। उस समाजवादी राजनीतिक धारा को आगे बढ़ाते हुए चिराग को तेजस्वी के आमंत्रण पर विचार करना चाहिए। LJP के प्रवक्ता राजेश भट्ट कहते हैं कि तेजस्वी यादव ने सहानुभूति दिखाई है। हम इसके आभारी हैं, लेकिन LJP किसी नए गठबंधन पर अभी विचार नहीं कर रही। अभी हम आशीर्वाद यात्रा से जनाधार बढ़ाएंगे और ताकत दिखाएंगे। लोगों का भ्रम टूट जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *