Corona का कहर, पप्पू यादव ने दिल्ली से बिहार के लिए रवाना की 30 बसें

Spread the love

लॉकडाउन के कारण काम बंद हो जाने के लाखों बिहारी प्रवासी मजदूर दिल्ली में फंसे हुए हैं। वे सभी अब वापस अपने घर जाना चाहते हैं। इन मजदूरों की समस्या को समझते हुए जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मधेपुरा के पूर्व सांसद पप्पू यादव ने गुरुवार की रात दिल्ली के ईस्ट ऑफ कैलाश से 20 बसें बिहार के लिए रवाना की। इन बसों के रवाना होने के कुछ घंटों के बाद शुक्रवार की सुबह 10 और बसें दिल्ली से बिहार के लिए खुली।

पप्पू यादव ने जरूरतमंदों के बीच सूखा राशन और नगद पैसे बांटे

वहीं पप्पू यादव ने कहा कि दिल्ली से मजदूर भाईयों के लिए 30 बसें बिहार रवाना हो चुकी है। आगे भी कई और बसें भेजी जानी है। हमारी कोशिश है कि सबों की मदद की जाए। उसमें हम लगे हुए हैं। आज और बसों का इंतजाम किया गया है, जो दिन में बिहार के लिए खुलेगी। साथ ही पप्पू यादव ने हर रोज़ की तरह शुक्रवार को भी उन्होंने जरूरतमंदों के बीच सूखा राशन और नगद पैसे बांटे।

हाजीपुर के क्वारंटाइन सेंटर में एक मजदूर द्वारा फांसी लगाकर की गई आत्महत्या पर जाप अध्यक्ष ने कहा कि लाचार बेचारे मजदूर फांसी लगाने को मजबूर हैं। दूसरी क्वारंटाइन होने से वह मानसिक तनाव में था। बिहार आने से पहले वह दिल्ली में भी क्वारंटाइन सेंटर में रह चुका

Leave a Reply

Your email address will not be published.