रेप की शिकायत पर दो माह तक नहीं की कार्रवाई, अब आरोपी से हो रही शादी को रोकने पहुंच गई पुलिस

इस समय बिहार के सारण जिले से पुलिस महकमे से रोचक खबर आ रही है। बिहार की पुलिस अपनी कार्यशैली को लेकर विवादों में रहती है। ताजा मामला भी अचंभित करने वाला है। सारण जिले से दुष्कर्म का एक ऐसा मामला सामने आया है, जो इन दिनों इलाके में चर्चा का विषय बन गया है। एक युवती ने थाने में दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई। दो माह तक पुलिस ने पीड़िता का न तो मेडिकल जांच कराना जरूरी समझा और न ही मामले में आरोपी के खिलाफ किसी तरह की कोई कार्रवाई की गई। पुलिस की कार्यशैली से निराश पीड़िता और आरोपी के परिवार ने थाने के बाहर ही समझौता कर दोनों की शादी कराने को तैयार हो गए। गुरुवार को दोनों की शादी होनेवाली थी कि अचानक दो माह बाद पुलिस की नींद टूट गई और वह पहुंच गए शादी रुकावने के लिए। जहां वह पीड़‍िता की मेडिकल जांच और 164 का बयान कराने का दबाव देने लगी। साथ ही यह भी कहा कि ऐसा नहीं किया तो युवक को गिरफ्तार किया जाएगा। लेकिन तभी युवती दुष्कर्मी युवक के सामने खड़ी हो गई। पुलिस को साफ कहा कि अगर उसने पति को गिरफ्तार किया तो वह आत्महत्या कर लेगी। यह सुनते ही लड़की ने चेतावनी दी है कि यदि उसके पति को गिरफ्तार किया गया तो वह आत्‍महत्‍या कर लेगी।

मामला मकेर थाना क्षेत्र के पीर मकेर का बताया गया है। करीब दो माह पहले तीन मई को युवती ने दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई थी। लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। जिसके बाद इधर गुरुवार की रात सबकी सहमति से आरोपित की शादी उस लड़की से कराई गई। पुलिस को इसका पता चला। अब पुलिसवाले कह रहे हैं लड़की की मेडिकल जांच और 164 का बयान कराइए नहीं तो दूल्‍हा को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। शादी में बाधा डालने को लेकर अब युवती ने डीआईजी और एसपी को पत्र लिखा है। जिसमें उसने लिखा है कि अगर उसके पति को गिरफ्तार किया जाता है तो वह सुसाइड कर लेगी। लड़की के पिता ने भी वरीय अधिका‍रियों को इसकी सूचना दी है।है।अपर थानाध्‍यक्ष अंसार अहमद सिद्दीकी ने कहा कि वे मामले में अनुसंधानक हैं। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद वे कई बार पीड़‍िता का बयान लेने पहुंचे। लेकिन उसे पुलिस के सामने नहीं लाया गया। इस बीच पता चला कि उनकी शादी हो रही है। कानून के हिसाब से हम काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *