नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, STET पास सभी अभ्यर्थियों को मिलेगी नौकरी, आगे की बहाली प्रक्रिया में होंगे शामिल

इस वक्त राजधानी पटना से बड़ी खबर सामने आ रही है. एसटीईटी परीक्षा में सफल सभी अभ्यर्थियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. बिहार सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने कहा है कि एसटीईटी उत्तीर्ण सभी कैंडिडेट्स को नौकरी दी जाएगी. शिक्षा विभाग की ओर से शनिवार को जारी आदेश के मुताबिक एसटीईटी क्वालिफाइड कैंडिडेट्स को माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षकों के सातवें और आगे की नियुक्ति के चरण में शामिल होने का मौक़ा दिया जायेगा.

शनिवार को शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर बताया कि 22 जून को गठित कमिटी की अनुशंसा के विभिन्न तथ्यों का विचार किया गया. कमिटी ने शिक्षक पात्रता परीक्षा प्रमाण पत्र की वैधता को लाइफ टाइम करने की सिफारिश की थी. इसको लेकर सरकार ने टीईटी के अनुमान्यता को मई 2012 के प्रभाव से लाइफ टाइम के लिए कर दिया. इसी तरह एसटीइटी प्रमाण पत्र की मान्यता को जून 2012 के प्रभाव से लाइफ टाइम किया गया. जिनके प्रमाण पत्र की मान्यता जून 2021 में समाप्त हो रही थी. इस नियमावली के अनुसार नगर निकाय और जिला परिषद में माध्यमिक शिक्षक और उच्च माध्यमिक शिक्षक के पद पर नियुक्ति हेतु बरकरार की गई है. इसी के आधार पर एसटीईटी 2019 के रिजल्ट को दो श्रेणियों क्वालिफाइड एंड इन मेरिट लिस्ट और क्वालिफाइड बट नॉट इन मेरिट लिस्ट में रखा गया. इस परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों को अन्य निर्धारित शर्तों के अधीन माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्ति के सातवें चरण में शामिल होने का अवसर देने की अनुशंसा की गई.

कमिटी की इस अनुशंसा पर शिक्षा विभाग ने यह निर्णय लिया है कि एसटीईटी 2019 के लिए न्यूनतम पासिंग मार्क्स के आधार पर क्वालिफाइड सभी अभ्यर्थियों को माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षकों के सातवें और आगे की नियुक्ति के चरण में शामिल होने का मौक़ा दिया जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *