दरभंगा ब्लास्ट में नया मोड़ : पाक से फंडिंग का मिला कनेक्शन, गिरफ्त में आए लोगों के बैंक अकाउंट खंगालने में जुटी एनआईए टीम

दरभंगा स्टेशन पर हुए पार्सल ब्लास्ट मामले की जांच की कमान केंद्रीय जांच एजेंसी NIA ने पूरी तरह से संभाल लिया है। दरभंगा से दिल्ली लौटने के बाद इनकी एक टीम सिकंदराबाद भी पहुंची। तेलंगाना ATS से मिले सबूतों के आधार पर आगे की जांच वहां भी NIA के अधिकारी कर रहे हैं। इस बीच सूत्रों से जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक जिन तीन लोगों को इस ब्लास्ट कांड के बाद पकड़ा गया, उनके पास रुपयों की फंडिंग पाकिस्तान से हो रही थी। इस बात के सबूत मिले हैं। इसमें एक संदिग्ध को सिकंदाराबाद और दो संदिग्धों को उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार किया गया था। इनके फंडिंग की बात नई है।

अब NIA की टीम इन तीनों के बैंक अकाउंट को खंगलाने में जुट गई है। संदिग्धों के कितने बैंक अकाउंट्स हैं? उसमें कब कहां से रुपए भेजे गए हैं? इसकी पूरी पड़ताल की जा रही है। इसके अलावा इनके कांटैक्टस को भी खंगाला जा रहा है। कब किस से बातें हुईं? इनकी बातें नॉर्मल कॉल के जरिए होती थीं या इसके लिए इंटरनेट कॉल का इस्तेमाल किया जाता था? इन प्वाइंट्स पर काफी गहराई से जांच की जा रही है। जिस तरह से दरभंगा पार्सल ब्लास्ट की जांच आगे बढ़ती जा रही है, उस हिसाब से यह मामला काफी सेंसेटीव बनता जा रहा है। इस केस में शुरूआती जांच के बाद ही पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI के तार जुड़ने लगे थे। यह बात तभी सामने आई थी, जब बिहार रेल पुलिस और तेलंगाना और उत्तर प्रदेश की ATS ज्वाइंट रूप से पड़ताल कर रही थी। देश से बाहर का कनेक्शन सामने आने के बाद ही इस मामले की जांच की कमान NIA को सौंपी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *