यास जूस प्लांट का मोतिहारी डीएम ने किया दौरा, की तारीफ

पटना, 6 फरवरी: युवाओं को स्थानीय स्तर पर रोज़गार मुहैया कराने के उद्देश्य से आई.आई.एम. इंदौर के पूर्व छात्र हिमांशु कुमार पाण्डेय ने मोतिहारी के अरेराज में फूड प्रोसेसिंग प्लांट की स्थापना की है. अरेराज के हरदिया में स्थापित इस प्लांट का दौरा पूर्वी चंपारण के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने शुक्रवार को किया. इस अवसर पर उन्होंने प्लांट में जूस निर्माण से लेकर पैकेजिंग और अन्य प्रक्रियाओं का अवलोकन किया. कंपनी “शुरू फूड्स एंड प्राइवेट लिमिटेड” के निदेशक हिमांशु कुमार पाण्डेय ने उन्हें हर प्रक्रिया के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी.

दौरे के बाद जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने कहा कि यह एक सराहनीय शुरुआत है. प्लांट पूरी तरह से स्वचालित है. इसे बनाने के दौरान केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, केंद्रीय भूजल बोर्ड समेत सभी मानदंडो का ध्यान रखा गया है. अगर इनके पास कोई अन्य अच्छे प्रोजेक्ट होंगे तो ज़िला प्रशासन न्यू इंडस्ट्रियल पॉलिसी ऑफ बिहार के तहत लोन सहित अन्य मामलों में पूरी मदद करेगा. मैंने उद्योग विभाग के वरीय पदाधिकारियों को भी इसके बारे में सूचित कर दिया कि यह एक बहुत अच्छी पहल है.

रोज़गार सृजन पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस प्लांट से 200 से अधिक लोगों को रोज़गार मिलेगा. इस शुरुआत से जिले के अन्य युवाओं को भी प्रेरणा मिलेगी. इस अवसर एसडीओ संजीव कुमार, डीएसएलआर संजय कुमार, बीडीओ मनोरंजन पाण्डेय, मुखिया अभय तिवारी मौजूद रहें.

जिलाधिकारी के भ्रमण के बाद हिमांशु कुमार पाण्डेय ने बताया कि प्लांट में पांच तरह के जूस – आम, लीची, शिकंजी, पंचरत्न और आमपन्ना बनाए जा रहे है. “यास” ब्रांड नाम के साथ बन रहे इस जूस के निर्माण के क्रम में साफ-सफाई और गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाता है. पूर्ण रूप से स्वचालित होने से इस प्लांट से एक दिन में 18 हजार लीटर तक जूस का उत्पादन हो सकता है और प्रति मिनट 120 जूस की बोतलें भरी और पैक की जा सकती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons