मंत्री शाहनवाज हुसैन बोले-कांग्रेस ने लोकतंत्र को वह घाव दिया है, जिसकी टीस सदियों तक होगी महसूस

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि 25 जून 1975 को लागू किया गया आपातकाल लोकतंत्र का वो बदनुमा दाग है, जिसे कभी मिटाया नहीं जा सकता। आम नागरिकों के सभी मौलिक अधिकारों को निरस्त कर दिया गया। राजनीतिक विरोधियों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया। प्रेस पर सेंसरशिप लगाई गई। कांग्रेस ने लोकतंत्र को वह घाव दिया है, जिसकी टीस सदियों तक महसूस होगी। वे शुक्रवार को नवादा जिले के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ वर्चुअल संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 25 जून की तारीख जब 1975 में देश में आपातकाल लगाया गया था, पूरे देश के बीजेपी कार्यकर्ताओं ने इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाया। स्व. इंदिरा गांधी ने राजनीतिक विरोधियों पर अत्याचार की कोई सीमा नहीं रखी। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने इंदिरा गांधी के चुनाव को रद कर दिया था। इसका आदर करते हुए इंदिरा गांधी को त्यागपत्र देना चाहिए था, लेकिन सत्ता में बने रहने के लिए उन्होंने कैबिनेट की स्वीकृति के बिना 25 जून 1975 की आधी रात को आपातकाल लगा दिया। करीब 1 लाख 40 हजार लोग जेल में डाल दिए गए थे। ये सब सिर्फ इसलिए हुआ क्योंकि सिर्फ एक व्यक्ति को सत्ता में बने रहना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *