पटना डिप्टी मेयर की कुर्सी गई, अविश्वास प्रस्ताव में बुरी तरह हारी मीरा देवी

पटना की डिप्टी मेयर मीरा देवी की कुर्सी चली गई है। उनके खिलाफ पार्षदों की तरफ से लाया गया अविश्वास प्रस्ताव साबित हो गया है। उपमहापौर मीरा देवी को 14 वोट मिले हैं जबकि उन्हें 38 वोटों की जरूरत थी। पटना नगर निगम की डिप्टी मेयर मीरा देवी की कुर्सी का फैसला आज हो गया। उपमहापौर के खिलाफ लाये गए अविश्वास प्रस्ताव पर आज हां या ना की मुहर लगी। अविश्वास प्रस्ताव को गिराने में डिप्टी मेयर गुट के पार्षद सफल नहीं रहे। जिसके कारण उनकी कुर्सी गयी। अब उन्हें अपने पद से हटना होगा। बांकीपुर अंचल सभागार में डिप्टी मेयर मीरा देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई गई थी।

बैठक के लिए सुरक्षा व्यवस्था का पुख्ता इंतजाम किया गया था। मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी थी। बैठक स्थल के आसपास धारा-144 लागू किया गया। बैठक में पार्षदों के साथ-साथ अधिकारियों और निगमकर्मियों का ही केवल प्रवेश था। पार्षद प्रतिनिधियों को जाने की इजाजत नहीं थी। उपमहापौर मीरा देवी के खिलाफ पार्षदों की तरफ से लाया गया अविश्वास प्रस्ताव साबित हो गया। मीरा देवी अब पटना की डिप्टी मेयर नहीं रहीं। उनके पक्ष में 14 वोट मिले जबकि उन्हें 38 वोटों की जरूरत थी। वोट कम मिलने की वजह से उनकी कुर्सी चली गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *