ललन सिंह को JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष की मिलेगी कमान, कुशवाहा बन सकते हैं प्रदेश अध्यक्ष, नीतीश ने दिए संकेत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक व्यक्ति, एक पद के नियम के कारण जनता दल यूनाईटेड (JDU) में बदलाव के संकेत मिलने लगे हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष रामचंद्र प्रसाद (RCP) सिंह के केंद्र में मंत्री बनने के बाद इसकी सुगबुगाहट तेज हो गई है। राजनीतिक चर्चाओं की मानें तो मुंगेर से सांसद ललन सिंह और संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा में से कोई एक अध्यक्ष बनेगा। भास्कर को मिली जानकारी के अनुसार, राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के ज्यादा आसार हैं। उपेंद्र कुशवाहा को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी जा सकती है। बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार समीकरण को बैलेंस करने के साथ-साथ पार्टी के सर्वोच्च पद पर अपने विश्वस्त को ही बैठाना चाहते हैं। यही कारण है कि CM नीतीश कुमार अगड़ी जाति के मजबूत नेता और पिछले तीन दशकों के साथी ललन सिंह को कमान देना चाहते हैं।

पिछले दिनों हुए मंत्रिमंडल विस्तार में RCP सिंह के मंत्री बन जाने के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर संशय की स्थिति थी। इस स्थिति से निकालने के लिए और सामाजिक समीकरण को दुरुस्त करने के लिए ललन सिंह विकल्प के तौर पर उभरे हैं। ललन सिंह के पास प्रदेश अध्यक्ष होने का भी अनुभव है। ललन सिंह नीतीश कुमार के विश्वास पात्रों में से एक हैं, वही ललन सिंह के केंद्र में मंत्री नहीं बन जाने की स्थिति में संगठन में भारी-भरकम पद देने की कोशिश की जा रही है। ताकि संगठन से लेकर सरकार तक में ललन सिंह का एक रुतबा कायम रहे। बहुत जल्द वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह पटना आएंगे, उसके बाद संगठन की बैठक करके राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा कर दी जाएगी।

बिहार विधानसभा में तीसरे नंबर की पार्टी बनी JDU अपने आप को प्रदेश में मजबूत करना चाहती है। इसके लिए उसने कवायद तेज कर दी है। बताया जा रहा है कि JDU स्वाभिमान के साथ सत्ता में रहना चाहती है। 18 जुलाई को हुई बैठक में उपेंद्र कुशवाहा को लेकर नीतीश कुमार ने साफ तौर पर संकेत दिए थे। कहा था- “JDU में बेहतर काम कर रहे हैं। संगठन की मजबूती पर अच्छा काम कर रहे हैं, इन्हें बड़ी और नई जिम्मेदारी दी जा सकती है।’ JDU सूत्रों के मुताबिक उपेंद्र कुशवाहा को नीतीश कुमार प्रदेश की कमान सौंपना चाहते हैं। यही वजह है कि उपेंद्र कुशवाहा पूरे प्रदेश में घूम-घूम कर अपनी बिहार यात्रा कर रहे हैं। संगठन के लोगों से मिल रहे हैं, पुराने नेताओं में जोश भर रहे हैं और पार्टी में नई ऊर्जा लाने की बात कह रहे हैं। सूत्र बताते हैं उपेंद्र कुशवाहा प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर एक मजबूत नेता साबित होंगे और इनसे सामाजिक समीकरण भी दुरुस्त होगा। आज से बिहार यात्रा के तहत शाहाबाद क्षेत्र में दौरा के लिए निकल रहे उपेंद्र कुशवाहा पहले भी कह चुके है कि वह पार्टी की मजबूती के लिए काम कर रहे हैं। सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने और सरकार के कामों को लोगों को बताने के लिए वह बिहार यात्रा निकाल रहे हैं। वही लोकसभा के मानसून सत्र में शामिल होने गए ललन सिंह ने इस बाबत कोई चर्चा नहीं की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *