तेजस्वी के दावे को जदयू-बीजेपी ने कहा हवा-हवाई, कहा-मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपने विधान सभा क्षेत्र राघोपुर क्या गए, वहां के लोगों में ये कहकर जोश भर दिया कि घबराइए मत सरकार दो-तीन महीने में गिरने वाली है। इस बयान के बाद राघोपुर में तेजस्वी यादव के नाम के नारे लगने लगे। उनके क्षेत्र के लोगों में इतना जोश भर गया कि वो फूले नहीं समा रहे थे। इधर, पटना में इस बयान के राजनीतिक मायने निकाले जाने लगे। हर दल में सियासी चर्चा शुरू हो गई। इस दावे में कितना सच है इसका आंकलन निकाला जाने लगा। BJP इसे शगूफा मानती है, तो JDU इसे मुंगेरी लाल के हसीन सपने बता रही है। वहीं जानकार भी इसे पूरी तरह से खारिज करते हुए इस दावे में कोई दम नहीं बता रहे हैं।

बीजेपी नेता और बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन इसे हास्यापद बताते हैं। उनका कहना है कि ये बयान तेजस्वी यादव की बेचैनी को बताता है। सत्ता की लोलुप्ता इतनी ज्यादा है कि वो इस तरह के बयान देकर अपने आप को सुर्खियों में में रख रहे हैं। जब वे नींद से जगते हैं तो इसी तरह का बयान देकर अपने आप को झूठी तसल्ली दे रहे हैं। ये इतने दिनों से गायब थे, अब जब अपने लोगों के बीच में गए तो शगूफा छोड़ आए। तेजस्वी यादव का ये बयान पूरी तरह से निराधार है। उनके इस बयान में कोई तर्क नहीं है।

वहीं जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह कहते है कि तेजस्वी यादव दिन में ही मुंगेरी लाल के हसीन सपने देखने लगे हैं। 204 दिन के बाद अपने क्षेत्र में गए और बोला भी तो झूठ। तेजस्वी यादव इसी तरह से अपने लोगों को बरगलाकर वोट लेते हैं। सरकार पूरी तरह से मजबूत है। सरकार के सभी सहयोगी दल आपस में मजबूत है। ऐसे में तेजस्वी अपने इस बयान के बाद और भी हल्के हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *