कोविड-19 के मद्देनजर दिल्ली में अधिकतर लोगों ने घर में ही पढ़ी ईद-उल-अजहा की नमाज़

कोरोना महामारी के साये के बीच दिल्ली में बुधवार को ईद-उल-अजहा के मौके पर अधिकतर लोगों ने नमाज घर में ही पढ़ी। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए शहर में त्योहार पर एकत्रित होने पर रोक है।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों को बकरीद की शुभकामनाएं दी। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ सभी देशवासियों को ईद-उल-अज़हा की दिल से मुबारकबाद। ये त्योहार आप सभी के जीवन में सुख, समृद्धि एवं खुशियां लेकर आए।’’बकरीद पर मस्जिदों में आमतौर पर दिखने वाली हलचल और रौनक नदारद रही। पुरानी दिल्ली की जामा मस्जिद और फतेहपुरी मस्जिद भी लोगों के लिए बंद थी। भीड़ जमा न हो, इसके लिए मस्जिदों के बाहर पुलिस भी तैनात की गई है।जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने कहा, ‘‘ कोविड-19 संबंधी पाबंदियों के चलते सामूहिक रूप से नमाज़ पढ़ने पर रोक है, केवल कुछ कर्मचारियों और उनके परिवार ने ही आज ईद-उल-अजहा की नमाज़ पढ़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *