सुशासन सरकार में जदयू विधायक को जान का खतरा, नीतीश से कहा..अपराधियों से खगड़िया एसपी की है मिलीभगत

इस समय राजनीतिक गलियारे से बड़ी खबर सामने आ रही है। बिहार में CM नीतीश कुमार के सुशासन के दावों के बीच में जमीनी हकीकत क्या है इसकी पोल विरोधी नहीं बल्कि अब सत्तापक्ष के विधायक खोलने लगे हैं। जेडीयू के विधायक डॉ संजीव कुमार ने खगड़िया जिले के एसपी के ऊपर गंभीर आरोप लगाए हैं। विधायक ने अपनी जान को एसपी से खतरा बताते हुए कहा है कि खगड़िया एसपी की मिलीभगत से अपराधियों से है और उनसे मुझे खतरा पैदा हो गया है। बिहार सरकार के पूर्व मंत्री रामानंद सिंह के बेटे डॉ संजीव कुमार परबत्ता विधानसभा सीट से चुनाव जीतकर पहली बार विधानसभा पहुंचे हैं। डॉ संजीव कुमार ने अपने ऊपर जान का खतरा बताते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा है।

जेडीयू विधायक ने अपने जिले खगड़िया के एसपी अमितेश कुमार के कारनामों को लेकर मुख्यमंत्री को पत्र लिखते हुए कहा है कि एसपी की अपराधियों से सांठगांठ है। जिले में जेडीयू के कार्यकर्ता मारे जा रहे हैं, हत्यारों पर कार्रवाई तक नहीं हो रही है। अब तो एसपी से मेरी जान पर खतरा पैदा हो गया है। विधायक ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में एसपी को लेकर कई अन्य बातों का जिक्र भी किया है। उन्होंने मांग की है कि एसपी अमितेश कुमार अक्षम और भ्रष्ट हैं लिहाजा उन्हें तुरंत हटाया जाए। जेडीयू विधायक ने एसपी के ऊपर कार्रवाई करने का भी आग्रह किया है। मुख्यमंत्री को इस बात की जानकारी दी है कि एसपी के बारे में वह बिहार के डीजीपी को पहले ही सब कुछ बता चुके हैं।

जेडीयू विधायक ने कहा है कि उन पर विधानसभा चुनाव में जानलेवा हमला हुआ था। 6 महीने से ज्यादा का वक्त गुजर चुका लेकिन एक अपराधी भी नहीं पकड़ा गया। अब तक इस मामले का सुपरविजन भी नहीं हुआ है। जब एमएलए की स्थिति है तो आम आदमी के हालात कैसे होंगे अंदाजा लगाया जा सकता है। मैंने डीएसपी से अपराधियों की गिरफ्तारी के बारे में पूछा तो उनका कहना था कि एसपी साहब ने मना किया हुआ है। इलाके में जेडीयू के कई कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है लेकिन हत्यारे खुलेआम घूम रहे हैं। विधायक एसपी पर इतने नाराज हैं कि उन्होंने जमकर भड़ास निकाली है। डॉ संजीव कुमार ने कहा है कि मैं गलत होते नहीं देख सकता। आवाज उठाऊंगा, भले ही किसी को बुरा लगे या भला। विधायक ने कहा कि अगला चुनाव मुझे लड़ना है, यह सोचकर मैं मौनी बाबा नहीं बनूंगा। उधर विधायक की तरफ से लगाए गए आरोपों पर एसपी अमितेश कुमार चुप्पी साध ली है। अमितेश कुमार ने इस पूरे मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। अब मामला नीतीश कुमार के सामने है और आरोप जेडीयू के विधायक लगा रहे हैं। ऐसे में देखना होगा कि मुख्यमंत्री इस मामले पर क्या एक्शन लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *