गया में अंगीठी से निकला धुआं बना मौत का सबब, बंद कमरे में तीन बच्चों समेत मां की मौत

Spread the love

बिहार में शुक्रवार की सुबह एक दर्दनाक हादसा हुआ. अहले सुबह हुई इस बड़ी घटना में एक ही परिवार के चार लोगों की दर्दनाक मौत (Four Death In Gaya) हो गई. मृतकों में छोटे-छोटे बच्चे भी शामिल हैं. सभी की मौत बोरसी (अंगीठी) से निकले जहरीले धुएं से दम घुटने से मौत हुई है. मामला गया जिला से जुड़ा है जहां के अतरी थाना के मोहरा प्रखंड के मालती गांव में ये हादसा हुआ.

घर के लोगों ने बताा कि गुरुवार की रात मां अपने तीन बच्चों के साथ एक ही कमरे में सो रही थी. ठंड के कारण बोरसी (अंगीठी) में आग लगी हुई थी. इस दौरान सभी रात में सो गए वहीं बोरसी से निकला जहरीला धुंआ बंद कमरे में फैल गया. शुक्रवार को जब सुबह काफी देर तक घर का दरवाजा नहीं खुला और घर से धुआं निकलते देखा तो पड़ोसी ने घर का दरवाजा तोड़ा. लोगों ने कमरे में सभी को अचेत अवस्था में देखा.

जब स्थानीय डॉक्टर के द्वारा जांच की गई तो सभी को मृत घोषित कर दिया गया. मृतकों में 35 वर्षीय विभा देवी, 10 वर्षीय सिमरन कुमारी, 8 वर्षीय आर्यन कुमार, और 4 वर्षीय अंकिता कुमारी शामिल हैं. फिलहाल पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल भेजा है. बताया जा रहा है कि मृतक विभा देवी के पति पवन ठाकुर दिल्ली में रहकर काम करता है और उसकी पत्नी बच्चों को लेकर घर में रहती थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *