पूर्णिया में बाढ़ का कहर ज़ारी,घरों में घुसा पानी,राहत कार्य में जुटी NDRF टीम

Spread the love

विगत दिनों पूर्व में लगातार तीन दिन तक मूसलाधार बारिश और नेपाल क्षेत्र से आये बाढ़ ने पूर्णिया में भी अपना खूब कहर बरपाया है.बतादें तो पूर्णिया के अमौर प्रखंड क्षेत्र में इन दिनों महानंदा परमान और कनकई नदी में काफी उफान है.इसी बीच अमौर प्रखंड के सरबेली घाट के परमान नदी पर बना पुल बाढ़ के पानी में पूरी तरह ध्वस्त हो गया है.

हलाकि 2008 ईस्वी में ही यह पुल का निर्माण किया गया था.वही इस पुल के ध्वस्त होने से लगभग 3 गांव के हजारों लोगों की आबादी को आने जाने का रास्ता भी ध्वस्त हो गया है.पुल ध्वस्त होने की सूचना मिलते ही अमौर के विधायक अख्तरुल इमान भी जायजा लेने मौके पर पहुंचे. विधायक ने कहा कि पुल निर्माण में इंजीनियरों द्वारा यहां गलत स्टीमीट बनाकर छोटा पुल बनाया गया था.

जबकि यहां बड़े पुल की जरूरत थी.अगर सही स्टीमीट बनता तो आज यह नौबत नहीं आती.उन्होंने कहा कि अमौर प्रखंड में कई गांव में बाढ़ की स्थिति विकराल रूप ले ली है.उन्होंने प्रशासन से जल्द राहत और बचाव कार्य करवाने की मांग की है.उन्होंने कहा कि कई गांव में सड़कों के ऊपर से पानी बह रहा है तो कहीं लोगों के घरों में पानी घुसा हुआ है.ऐसे में समय रहते राहत और बचाव कार्य कर मदद करने की जरूरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *