बिहार के मशहूर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ प्रभात कुमार का कोरोना से निधन

Spread the love

बिहार के मशहूर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ प्रभात कुमार का कोरोना से निधन हो गया उन्होंने हैदराबाद में अंतिम सांस ली डॉ कुमार देश के नामचीन हृदय रोग विशेषज्ञों में शुमार थे। डॉ. कुमार ने हृदय रोग से पीड़ित हजारों गंभीर रोगियों की जान बचाई होगी। वे देश के चुनिंदा और बिहार के सबसे व्यस्ततम कार्डियोलॉजिस्ट थे। उनके कॅरियर की शुरुआत दिल्ली के RML अस्पताल से हुई थी फिलहाल डॉ. प्रभात पटना के राजेंद्र नगर स्थित मेडिका हार्ट इंस्टीट्यूट के मेडिकल डायरेक्टर थे। 1997 में पोस्ट ग्रेजुएशन और इसके बाद डीएम कार्डियोलॉजी करने के बाद उन्होंने दिल्ली के आरएमएल अस्पताल में काम किया था। प्रदेश से बड़ी संख्या में रोगियों के दिल्ली आने और वहां उनको होने वाली परेशानी देखकर वे डॉ. एके ठाकुर के हार्ट हॉस्पिटल में आकर सेवा देने लगे। कुछ ही वर्षों में वे बेहतरीन सर्जन और क्लीनिशियन के रूप में प्रख्यात हो गए।

सीएम नीतीश कुमार ने जताया शोक-
मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने शोक संदेश में कहा कि प्रभात कुमार हृदय रोग के प्रख्यात डाक्टर थे। वह बिहार में एंजियोप्लास्टी की सुविधा देने वाले पहले कार्डियोलाजिस्ट थे। बिहार के लोगों को एंजियोप्लास्टी के लिए पहले एम्स या फोर्टिस जैसे संस्थानों में जाना पड़ता था, लेकिन डॉ. प्रभात ने यह सुविधा पटना में उपलब्ध कराई। डॉ. प्रभात समाज सेवा के कार्यों से भी जुड़े थे। गरीबों का मुफ्त इलाज भी करते थे। उनके निधन से चिकित्सा जगत को अपूरणीय क्षति हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.