मनी लांड्रिंग मामले में ईडी की बड़ी कार्रवाई, RJD सांसद अमरेंद्र धारी सिंह के एफडी में जमा 13.34 करोड़ जब्त!

कथित उर्वरक घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी (ED) के रडार पर आये राजद सांसद अमरेंद्र धारी सिंह की 13.34 करोड़ रुपये कीमत की सावधि जमा को कुर्क किया गया है. ईडी ने आरजेडी सांसद को आरोपित बनाकर जून महीने में गिरफ्तार किया था.जो फिलहाल जमानत पर हैं. ईडी ने राजद सांसद के एफडी को जब्त किया है. यह जब्ती कथित उर्वरक घोटाले और 685 करोड़ रुपये की रिश्वत के भुगतान से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में हुई है. राजद सांसद को इस मामले में आरोपित बनाया गया है. जून महीने में एडी सिंह की गिरफ्तारी की गई थी.

गौरतलब है कि अमरेंद्र धारी सिंह दुबई की एक कंपनी ज्योति ट्रेडिंग कारपोरेशन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट भी हैं. यह कंपनी मामले में भी शामिल है. जांच एजेंसी ने आरोप लगाया है कि राजद सांसद को अपराध से जुड़ी राशि नकद के रुप में दी गई थी. इस मामले में आपराधिक गतिविधियों से जुड़ी 27.79 करोड़ रुपये की राशि की हेराफेरी की गई थी. बता दें कि बिहार से राजद के राज्यसभा सांसद अमरेंद्र धारी सिंह उर्फ एडी सिंह को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था. इसी साल जून महीने में उनकी गिरफ्तारी हुई थी. उर्वरक घोटाले की जांच में आरजेडी सांसद की गिरफ्तारी की इस खबर ने सियासी गलियारे में भूचाल मचा दिया था. बहुचर्चित फर्टिलाइजर घोटाला मामले में यह गिरफ्तारी दिल्ली में हुई थी.

गौरतलब है कि अमरेंद्र धारी सिंह को राजद सुप्रीमो लालू यादव का बेहद करीबी बताया जाता है. पार्टी ने जब उन्हें पहली बार राज्यसभा में बतौर सांसद भेजने का फैसला किया था तो सभी लोग हैरान हो गये थे. बिहार के लोगों के लिए वो एक अनजान चेहरे की तरह थे. बता दें कि एडी सिंह एक नामचीन बिजनेसमैन हैं. वो रियल एस्टेट में भी काम करते हैं और 13 देशों में फर्टिलाइजर और केमिकल का कारोबार है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *