गया में गैंगवार के दौरान दारोगा के भाई की घर से खींचकर हत्या, दर्ज थे कई मामले

बिहार के गया में एक दारोगा के भाई की निर्मम तरीके से हत्या (Murder In Gaya) कर दी गई. घटना शहर के कोतवाली थाना अंतर्गत तेलबिगहा मोड़ के समीप की है जहां 29 अगस्त की देर रात युवक की हत्या कर दी गई. मृतक का नाम अरविंद चौधरी बताया जा रहा है. मृतक का छोटा भाई बिहार पुलिस की एसटीएफ (Bihar Police STF) विंग में दारोगा है और उसकी पोस्टिंग पटना ही है. घटना की सूचना के बाद सिटी डीएसपी राजकुमार साह मौके पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया. बताया जा रहा है कि अपराधियों के गिरोह आपस में भिड़े थे, जिसमें एक गुट के अपराधी को खदेड़ते हुए दूसरे गुट के अपराधी पीछा कर रहे थे. इसी दौरान तेल बीघा मोड़ के समीप अरविंद चौधरी को पकड़ कर ईट-पत्थर से कूच कर बेरहमी से उसकी हत्या कर दी गई. इस दौरान कई राउंड फायरिंग भी की गई थी. पुलिस अपराधियों की पहचान में जुट गई है. दरअसल अरविंद चौधरी का भी अपराधिक इतिहास रहा है और शहर के कई थानों में अरविंद चौधरी के खिलाफ कई तरह के मामले दर्ज हैं.

29 अगस्त की रात किसी की पंचायती कराने को लेकर तेलविगहा के पास गया हुआ था जहां पंचायती के दौरान दोनों पक्ष आपस में भिड़ गए. इस दौरान अरविंद चौधरी अपने आप को अकेला देख वहां से भागने लगा लेकिन दूसरे गुट के द्वारा अरविंद चौधरी को काफी दूर तक पीछा किया गया. इस दौरान अरविंद चौधरी एक घर में घुस गया वहीं अपराधियों ने अरविंद चौधरी को घर से खींचकर बाहर निकाला और ईट पत्थर से चेहरे पर वार कर उसकी निर्मम हत्या कर दी. अरविंद चौधरी के मंझले भाई की भी 10 साल पूर्व अपराधियों के द्वारा हत्या कर दी गई थी. इस घटना के बाद पूरे मोहल्ले में भय का माहौल व्याप्त है. फिलहाल पुलिस 24 घंटे बाद भी अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी जो पुलिस के लिए बड़ा प्रश्रचिन्ह खड़ा करता है. दरअसल इसी मोहल्ले के कुछ ही दूरी पर 24 अगस्त को ठेकेदार संतोष यादव की हत्या अज्ञात अपराधियों के द्वारा घर के बाहर ही कर दी गई थी, जिसमें मृतक के परिजनों के द्वारा अपने पड़ोसी पर ही चार लोगों पर नेम एफ आई आर दर्ज किया है.

फिलहाल इस मामले में भी सभी आरोपी फरार हैं. एक सप्ताह के अंदर एक ही जगह पर दो हत्या की घटना के बाद एसएसपी आदित्य कुमार ने गंभीरता से लेते हुए कोतवाली थाना के अधिकारियों के साथ बैठक की. इस दौरान उन्होंने कोतवाली थाना क्षेत्र में स्थित गोल बगीचा टीओपी, नई गोदाम टीओपी, पंचायती अखाड़ा टीओपी सहित अन्य पुलिस कर्मियों की समीक्षा की. एसएसपी ने समीक्षा करने के बाद गोल बगीचा टीओपी के प्रभारी मणि भूषण पासवान सहित अन्य होमगार्ड जवानों को वहां से हटा दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *