Delhi Rape Case: चिराग पासवान ने बताई FIR में नाम होने की वजह, बोले-जो भी दोषी हो सजा मिले

लोक जनशक्ति पार्टी (पारस गुट) के नेता और बिहार के समस्तीपुर सीट से सांसद प्रिंस राज (LJP MP Prince Raj) की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं. एक युवती के साथ हुए रेप केस (Delhi Rape Case) में फसे प्रिंस राज को लेकर उनके बड़े भाई चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने भी बयान दिया है. दरअसल इस केस में चिराग पासवान का भी नाम सामने आया है, जिसको लेकर चिराग पासवान ने सफाई दी है. चिराग ने कहा कि मेरा नाम एफआईआर में है क्योंकि उसमें लिखा है कि मुझे इस मामले की जानकारी थी और मैंने यह बात मानी भी है कि वह घटना मेरी जानकारी में थी. जमुई सांसद ने कहा कि हमने इस मामले की जानकारी मिलने के बाद उस वक्त भी पुलिस को जाने के लिए कहा था.

प्रिंस के बड़े भाई चिराग ने कहा कि इस कांड में जो भी कोई दोषी हो उसको सजा मिलनी चाहिए. प्राथमिकी में लोजपा नेता चिराग पासवान का भी नाम आया है. महिला का आरोप है कि शिकायत मिलने के बावजूद अपने चचेरे भाई प्रिंस के खिलाफ कार्रवाई में पासवान ने देरी की.

बता दें कि युवती ने तीन महीने पहले ही दिल्ली पुलिस को प्रिंस राज पासवान के खिलाफ लिखित शिकायत दी थी, लेकिन दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया था. ताजा घटना में दिल्ली पुलिस ने उनके खिलाफ एक संगीन आपराधिक मामला दर्ज किया है. एक महिला द्वारा तीन महीने पहले की गई शिकायत के आधार पर राज के खिलाफ बलात्कार, आपराधिक साज़िश रचने और साक्ष्य मिटाने जैसे आरोपों में आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है. प्रिंस राज ने भी इसी साल फरवरी महीने में युवती के खिलाफ ब्लैकमेलिंग और एक्सटॉर्शन का मामला दर्ज कराया था. बता दें कि प्रिंस राज एलजेपी के संस्थापक अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के छोटे भाई दिवंगत रामचंद्र पासवान के बेटे हैं. एलजेपी (चिराग) गुट के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के चचेरे भाई भी हैं. इसके साथ ही मोदी मंत्रिमंडल में हाल ही में शामिल पशुपति कुमार पारस के भतीजे भी हैं.

गौरतलब है कि कुछ महीने पहले ही प्रिंस राज ने ट्वीट कर युवती के आरोप को खारिज किया था. प्रिंस राज ने अपने ट्वीट में लिखा था, ‘पता चला है कि एक लड़की मेरे खिलाफ मीडिया में बयान दे रही है और कई तरह की बात भी कह रही रही है. ऐसे किसी भी गलत बयानबाजी का मैं खंडन करता हूं. मुझ पर अनावश्यक रूप से दबाव बनाने के लिए खुले तौर पर झूठी और मनगढ़ंत कहानी गढ़ी जा रही हैं. इस तरह का प्रयास पहले भी वह लड़की और उसके मंगेतर के द्वारा किया जा चुका है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *