बिहार के 21 अनुमंडलों में नए कोर्ट खोलने का फैसला, जज और मुनसिफ के अलावा 128 अधिकारियों के पद सृजित

बिहार सरकार ने जिला और इससे नीचे की अदालतों में लंबित पड़े मुकदमों को कम करने के लिए 21 नये अनुमंडल स्तरीय न्यायालय खोलने का निर्णय लिया है. इन अनुमंडल स्तरीय कोर्ट खोलने से संबंधित प्रस्ताव पर विधि विभाग से मंजूरी दे दी गई है. अब यह प्रस्ताव हाईकोर्ट के पास अंतिम निर्णय के लिए गया हुआ है. वहां से मुहर लगने के बाद इन न्यायालयों को खोलने की कवायद शुरू हो जायेगी.

बिहार के फिलहाल 101 अनुमंडल में 21 अनुमंडल ऐसे हैं, जहां न्यायालय नहीं है या जिला न्यायालय में ही अभी अनुमंडल स्तरीय न्यायालय समाहित हैं. इनके खुलने के बाद राज्य के सभी अनुमंडलों में अनुमंडलीय न्यायालय हो जायेंगे. इन 21 नये न्यायालयों के लिए आठ सब जज, मुनसिफ के अलावा 128 अराजपत्रित अधिकारियों के पद का सृजन भी कर दिया गया है. न्यायालय खुलने का अंतिम आदेश जारी होने के साथ ही इन पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी जायेगी.

वर्तमान में 80 अनुमंडलों में अनुमंडलीय न्यायालय मौजूद हैं, जिसमें 37 में अनुमंडलों में सदर अनुमंडल न्यायालय हैं. इन नये अनुमंडलों में खुलने हैं कोर्ट जिन अनुमंडलों में कोर्ट खुलने हैं, उसमें राजगीर, मोहनिया, टेकारी, नीमचक बथानी, रजौली, मढ़ौरा, महाराजगंज, हथुआ समेत अन्य शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *