मुजफ्फरपुर में चल रही है सड़क पर नाव, शेखपुर ढाब में बूढ़ी गंडक की बाढ़ से घिरे लोग

बाढ़ के कहर से जहां ग्रामीण इलाके के लोग जूझ रहे हैं, वहीं मुजफ्फरपुर में बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में लगातार इजाफा हो रहा है। लगातार जलस्तर बढ़ने से जिले के शहरी इलाकों में रह रहे एक बड़ी आबादी को बाढ़ का सामना करने पर मजबूर है। जल जमाव होने के कारण इलाके में रह रहे लोग नाव का सहारा ले रहे है। नाविक लोगों से मनमाना पैसे वसूल रहे हैं। बताते चलें कि जिले के अहियापुर थाना के शेखपुर ढाब में रह रहे लोगों की स्थिति दयनीय हो चुकी है। पूरे इलाके में बाढ़ का पानी जम गया है, जिससे लोगों को आने जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

लोग अपनी छतों पर रहने को मजबूर हैं, क्योंकि नीचे हर जगह पानी ही पानी है। यहां लोगों ने थर्मोकोल की नाव बनाई है, जिससे यह किसी तरह अपना राशन-पानी लेने घर के बाहर मुश्किल से ही निकलते हैं। यहां के लोग 4 महीने इसी बदहाल स्थिति में जीते हैं, लेकिन इनकी सुनने वाला कोई नहीं है। मंत्री और विधायक यहां तब आते हैं, जब चुनाव का समय आता है।

स्थानीय लोगो ने बताया कि शेखपुर ढाब मोहल्ले में करीब 10 हजार लोग रहते है। बाढ़ को देखते हुए प्रशासन के तरफ से इलाके में महज दो नाव उपलब्ध कराया गया। जिसके कारण निजी नाव का सहारा लिया जा रहा है। इसका फायदा निजी नाव संचालक और नाविक उठा रहे है। बताया गया कि जहां 10 रुपये किराए लगने थे, वहां 50 रुपए तक ले लिए जाते है।रात के समय 100 से 200 तक किराया वसूला जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *