BJP का कार्यकारी जिलाध्यक्ष समेत 3 गिरफ्तार, हाथी के दांत की तस्करी में पटना के चिरायु हॉस्पिटल से धराए

इस वक्त राजधानी पटना से बड़ी खबर सामने आ रही है। वैशाली जिला बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ ज्योति कुमार समेत तीन लोगों को वन विभाग ने गिरफ्तार किया है। सभी की गिरफ्तारी प्रतिबंधित हाथी का दांत रखने के मामले में की गई है। पटना वन प्रमंडल की टीम ने ने पटना के बाईपास स्थित चिरायु हॉस्पिटल में छापेमारी की, जहां से 35 किलो हाथी दांत बरामद किया। इसी मामले में वैशाली जिला बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ ज्योति कुमार को गिरफ्तार किया गया है। छापेमारी का नेतृत्व पटना डीएफओ रुचि सिंह कर रही थीं। टीम ने डॉ ज्योति कुमार के अलावा उनके ड्राइवर और एक बिचौलिये को गिरफ्तार किया है। सभी से पटना के पाटलिपुत्र थाने में पूछताछ की जा रही है।

जानकारी के अनुसार, वन विभाग को गुप्त सूचना मिली थी कि चिरायु हॉस्पिटल में हाथी के दांत की तस्करी की जा रही है। पटना डीएफओ रुचि सिंह ने टीम के साथ चिरायु हॉस्पिटल में छापेमारी की, जहां से डॉ ज्योति कुमार समेत 3 लोगों को 35 किलो हाथी के दांत के साथ गिरफ्तार किया गया। कहा जा रहा है कि तस्करी का मास्टरमाइंड बीजेपी का कार्यकारी जिलाध्यक्ष डॉ ज्योति कुमार ही है।

इधर, पूछे जाने पर डॉ ज्योति कुमार ने अपनी सफाई में कहा कि उनके पास दो पालतू हाथी थे। उनकी मौत 4 साल पहले हो गई और यह दांत उसी के हैं। जब टीम ने हाथी रखने का लाइसेंस डॉ ज्योति से दिखाने को कहा, तो उन्होंने नहीं होने की बात कही। बताया जा रहा है कि डॉ ज्योति वैशाली के जंदाहा स्थित एक कोठी गांव के निवासी हैं। वैशाली जिला बीजेपी के अध्यक्ष रमेश कुशवाहा के निधन के बाद डॉ ज्योति कुमार को वैशाली जिला का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया था। उनका बीजेपी के कई बड़े नेताओं से संपर्क हैं। वह बीजेपी के महामंत्री के पद पर भी रह चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *