‘बंगाल’ में टूटी भाजपा

पश्चिम बंगाल में अभी भी सियासती हलचल का दौर चल रहा है तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा शामिल हुए लोगों की घर वापसी रोकने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है। हालांकि, पार्टी की यह कोशिश नाकाम होती दिख रही है। बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने सोमवार शाम को राजभवन में पार्टी विधायकों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात की थी। इस दौरान करीब 24 विधायकों ने मीटिंग से दूरी बना ली। तभी से अटकलें लगाई जा रही हैं कि कहीं अब बंगाल भाजपा में टूट तो नहीं होने जा रही।NDTV INDIA की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा नेताओं की बैठक का मकसद राज्यपाल को राज्य में हो रही कई हिंसक और गलत घटनाओं की जानकारी देना और अन्य महत्वपूर्ण मामलों पर चर्चा करना था, लेकिन भाजपा के 74 में से 24 विधायक शुभेंदु के साथ नहीं आए। ऐसे में पार्टी से रिवर्स माइग्रेशन की अटकलें शुरू हो गईं हैं। इसकी वजह यह भी मानी जा रही है कि सभी भाजपा विधायक शुभेंदु को नेता के तौर पर स्वीकार नहीं करना चाहते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *