बिहार पंचायत चुनाव पर बड़ी खबर, इसबार मतदान के दूसरे ही दिन आ जाएगा परिणाम

दस चरणों में ईवीएम से होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतदान के दूसरे ही परिणाम आ जाएगा। पहले चरण के मतदान और मतगतणना के बाद उन ईवीएम को तीसरे चरण की वोटिंग के लिए संबंधित बूथों पर भेज दिया जाएगा। इसी तरह दूसरे चरण की मतगणना के बाद ईवीएम को चौथे चरण की चुनावी प्रक्रिया के लिए भेजा जाएगा। चुनाव के लिए ईवीएम दूसरे राज्यों से मंगाई जाएंगी। केरल से पटना, नालंदा में जम्मू-कश्मीर और बांका में गुजरात से ईवीएम आएंगी। इस बार चार पदों के लिए ईवीएम से पटना में वोट डाले जाएंगे। ये ईवीएम केरल से यहां आएंगी। वहीं शेष दो पदों के लिए बैलेट बाक्स का इस्तेमाल होगा। नालंदा में जम्मू-कश्मीर, शेखपुरा में तमिलनाडु, शिवहर में त्रिपुरा और बांका में गुजरात के ईवीएम के माध्यम से मतदान होगा। चुनाव आयोग ने देशभर से ईवीएम का डाटा एकत्र किया है। इसके बावजूद सिर्फ चार पदों के चुनाव कराए जा सकते हैं। शेष दो पदों के लिए बैलेट बाक्स से वोट डाले जाएंगे।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव छह पदों के लिए होना है। ये पद हैं- वार्ड सदस्य, पंच, मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्य। पंचायत चुनाव के लिए देश के विभिन्न राज्यों से करीब 2 लाख 8 हजार 24 बैलेट यूनिट और 1 लाख 88 हजार 376 कंट्रोल यूनिट मंगाए जाएंगे। सभी जिलों को अलग-अलग प्रदेश से ईवीएम मंगाने के लिए टैग कर दिया गया है। पटना में केरल से 7718 बैलेट यूनिट और 4455 कंट्रोल यूनिट मंगाने के लिए टैग किया गया है। गया में ओडिशा से ईवीएम मंगाई जाएंगी। मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, मधुबनी और चंपारण में राजस्थान से ईवीएम आएंगी। मिजोरम, मणिपुर, मेघालय और असम से पूर्वांचल में मतदान के लिए ईवीएम मंगाया जा रहा है। नालंदा में जम्मू-कश्मीर के अलावा दिल्ली, पंजाब और हरियाणा का ईवीएम इस्तेमाल किया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिले में त्रिस्तरीय पंचायती राज के पदों के अनुसार ईवीएम की आवश्यकता का आकलन कर लिया है। अब दो पदों के लिए बैलेट बाक्स का प्रबंध करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *