जदयू नेता और पूर्व विधायक का बड़ा आरोप- शराब के झूठे केस में फंसा जेल भेज रही CM नीतीश की पुलिस

इस समय राजनीतिक गलियारे से बड़ी खबर आ रही है। CM नीतीश के सुशासन के दावों की पोल उनकी ही पार्टी के नेता और पूर्व विधायक खोल रहे हैं। बिहार में शराबबंदी का ढिढोरा पीटने वाली नीतीश सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। जदयू नेता और पूर्व विधायक के महेश्वर प्रसाद यादव ने दावा किया है कि पुलिस लोगों को शराबबंदी के झूठे केस में फंसा रही है। बता दें कि यह आरोप लगाने वाले महेश्वर प्रसाद यादव मुजफ्फरपुर के गायघाट विधानसभा क्षेत्र से जेडीयू के टिकट पर पिछला चुनाव लड़ चुके हैं। आरजेडी से पाला बदलकर जब जेडीयू में शामिल हुए थे तो तेजस्वी यादव को खूब खरी-खोटी सुनाई थी और नीतीश कुमार की शान में कसीदे पढ़े थे, लेकिन अब वही महेश्वर प्रसाद यादव आरोप लगा रहे हैं कि नीतीश कुमार की पुलिस भोले-भाले लोगों को शराब के केस में झूठे मुकदमे में फंसाकर जेल में डाल रही है।

बता दें कि पिछले दिनों बरियारपुर चौक पर पियर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कुछ लोगों के खिलाफ शराब के मामले में गिरफ्तार किया था। इस दौरान स्थानीय लोगों ने पुलिस का विरोध भी किया था, लेकिन अब पूर्व विधायक का आरोप लगा रहे हैं कि पुलिस से निर्दोष लोगों को झूठे मुकदमे में फंसा रही है। पूर्व विधायक और जेडीयू नेता पुलिस की कार्यवाही के बाद बरियारपुर चौक पहुंचे थे और वहां उन्होंने स्थानीय लोगों से बातचीत की इस दौरान उन्होंने पुलिस की कार्रवाई पर न केवल सवाल उठाए, बल्कि सीधा आरोप लगाया कि शराब के झूठे मुकदमे में भोले-भाले लोगों को फंसाया जा रहा है। पुलिस कहीं न कहीं गलत तरीके से एक्शन ले रही है। महेश्वर प्रसाद यादव की तरफ से लगाए गए आरोपों के बाद एक तरफ जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दावों पर सवाल खड़ा हो गया है वही बैठे-बिठाए विपक्ष को एक मुद्दा भी मिल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *