मैनपुरी के करहल से लड़ेंगे चुनाव लड़ेंगे अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी का बड़ा फैसला|

Spread the love

उत्तर प्रदेश : इस बार समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी चुनाव के मैदान में उतरेंगे| अभी तक इस बात को लेकर अटकलें लगे जा रही थी कि अखिलेश यादव को किस सीट से चुनाव लड़ना चाहिए सपा के एमएलसी उदयवीर सिंह ने बताया कि कई जिलों ने हाई कमान को ये प्रस्ताव भेजा था कि अखिलेश उनकी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ें| लेकिन आज समाजवादी पार्टी के एमएलसी उदयवीर सिंह ने यह बात साफ़ कर दी है कि अखिलेश यादव मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे इससे पहले इस सीट पर सपा के सोबरन सिंह का कब्ज़ा है| कुछ दिनों पहले सोबरन सिंह ने भी स्वयं अखिलेश यादव को करहल सीट से चुनाव लड़ने का न्यौता दिया था| आपको बता दें सोबरन सिंह यादव पिछली दो बार से इस सीट पर अपनी पकड़ बनाए हैं ये पहली बार होगा जब अखिलेश यादव विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे क्योंकि हाल में अखिलेश यादव आजमगढ़ सीट से लोकसभा सांसद हैं लगभग 1,50,000 यादव वोट अकेले मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट पर हैं| उदयवीर ने बताया कि ये फैसला अखिलेश यादव ने आजमगढ़ की जनता से बात चीत कर लिया है हालाकि कुछ दिनों पूर्व अखिलेश यादव ने खुद के चुनाव लड़ने की बात पर सीएम योगी आदित्यनाथ से पहले चुनाव लड़ने की बात कही थी|

क्या है करहल विधानसभा सीट का इतिहास

मैनपुरी की सबसे महत्वपूर्ण सीट करहल विधानसभा सीट को ही माना जाता है| जिसका कारण इस सीट का 2002 के सिवाय  1993 से लेकर आज तक हार का मूंह न देखना है| इस सीट पर सिर्फ एक बार 2002 में इस सीट पर हार का सामना करना पड़ा था| इस सीट पर सपा के बाबुराम यादव ने साल 1993 और 1996 में चुनाव जीता| जिसके बाद 2002 की हार के बाद 2007 में फिर से इस सीट पर सपा ने वापसी की एवं सोबरन सिंह इस सीट पर विधायक बने| बीजेपी लहर होने के बाद भी 2017 के चुनाव में इस सीट पर बीजेपी के हाथ निराशा लगी जिसमे उन्होंने बीजेपी के रमा शाक्य को शिकस्त दी साथ ही सोबरन सिंह इस सीट पर तीसरी बार विधायक चुने गए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *