सात फेरों के बाद जब दूल्हे ने कंधे पर उठाकर दुल्हन को ले गया अपने घर, जानें वजह

बिहार के किशनगंज में एक अजीब वाकया देखने को मिला। यहां शादी के बाद दुल्हन लेकर लौट रही बारात कनकई नदी की तेज धारा में फंस गई। बाराती तो पैदल ही नहीं पार कर लिया, लेकिन दुल्हन फंस गई। इसके बाद  दूल्हा शिवा कुमार ने अपनी नई नवेली दुल्हन को अपने कंधे पर उठाकर कनकई नदी पार कराया।

मामला दिघलबैंक प्रखंड की सिंघीमारी पंचायत का है। लोहागड़ा का शिवा कुमार पिता स्व.महेंद्र प्रसाद सिंह शनिवार को बारात लेकर अपने गांव से सिंघीमारी के पलसा गांव में शादी करने गया था। सोमवार सुबह वह दुल्हन को लेकर लौट रहा था। रास्ते में पड़ने वाली कनकई नदी की तेज धार की वजह से जाने के कारण उसने अपनी नई नवेली दुल्हन को कंधे पर उठाकर कनकई नदी पार कराना पड़ा। क्षेत्र में यह चर्चा का विषय बना हुआ है। गौरतलब हो कि पलसा घाट पर नाव से उतरने के बाद नदी के जलस्तर बढ़ने की वजह से नदी किनारे फेले पानी में दूल्हे ने अपनी पत्नी को पानी में उतरने नहीं दिया व उसे कंधा पर उठा कर धार की पानी को पार कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *