मोदी सरकार के बाद अब मंत्री मंगल पांडेय का दावा-बिहार में ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई कोई मौत

केंद्र सरकार के इस दावे के बाद की कोरोना काल में ऑक्सीजन (Oxygen Crisis) की कमी से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है, बिहार में भी सियासत शुरू हो गई हैं. केंद्र के दावे को सही ठहराते हुए बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे (Bihar Minister Mangal Pandey) ने भी पटना में कहा कि बिहार में ऑक्सीजन की कमी से किसी भी मरीज की मृत्यु नहीं हुई है. कोरोना के सेकंड वेब (Corona Second Wave) के शुरुआती दिनों में ऑक्सीजन की थोड़ी कमी जरूर हुई थी पर समय रहते पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की पूरी पूर्ति कर ली गई. इस कारण ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत नहीं हुई है.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कांग्रेस पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस पिछले 70 सालों से सिर्फ शासन करना जानती है. आम लोगों से इसका कोई लेना देना नहीं. राहुल गांधी पर सवाल खड़ा करते हुए मंगल पांडे ने कहा कि करोना काल में राहुल गांधी या प्रियंका किसी ने भी लोगों का हालचाल जानने किसी के पास नहीं गए. आज जब लोकसभा का सत्र शुरू हुआ है तो बेवजह हंगामा खड़ा कर रहे हैं.

केंद्र के दावे के बाद बिहार में राजनीति का पारा गरम हो गया है. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के बयान के बाद कांग्रेस ने इसे गैर जिम्मेदाराना बयान बताया है. कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि कोरोना काल में सैकड़ों की संख्या में लोगों की मौत हुई. लोग ऑक्सीजन की कमी के कारण छटपटा रहे थे और उन्हें ऑक्सीजन नहीं मिल रहा था. आज किस तरह यह दावा कर रहे हैं कि बिना ऑक्सीजन के किसी की मौत नहीं हुई. दूसरी तरफ आरजेडी ने भी केंद्र के दावे पर सवालिया निशान खड़ा किया है. आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि यह पूरी तरह बकवास और सरासर झूठा दावा है. सिर्फ बिहार ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश सहित देश के सभी राज्यों में बड़े संख्या में ऑक्सीजन की कमी के कारण लोगों की मौत हुई है. केंद्र सरकार सिर्फ आंकड़ो में हेरफेर करना जानती है उसे आम लोगों के जीवन से कोई मतलब नहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *