नवादा में शादी करने के बाद प्रेमी फरार, दिनभर हिरासत में रहने पर लड़केवालों ने कहा-हम बहू मानते हैं

नवादा में महिला थाने में पुलिस की ओर से प्रेमी जोड़े को बुलाकर शादी कराने का मामला सामने अाया है। बताया जाता है कि लड़की की शिकायत पर पुलिस ने लड़के के घरवालों को नोटिस देकर बुलाया और शादी करने का कहा। जब लड़के ने इनकार किया तो उसे हवालात में डाल दिया। एक दिन हवालात में रहने के बाद लड़के और उसके घरवालों का दिमाग ठिकाने लगा और शादी करने को तैयार हो गए। इसके बाद थाने में ही दोनों की शादी करा दी गई। बताया जाता है कि एक युवक-युवती को सोशल साइट से प्यार हुआ, फिर दोनों की मुलाकातें होने लगी। बात आगे बढ़ी और प्रेमी ने छुप-छुपाकर प्रेमिका की मांग भर दी। प्रेमिका को सपने दिखाने के बाद प्रेमी उसे छोड़कर फरार हो गया। अपना फोन स्विच ऑफ कर लिया और मौके से भाग गया। प्रेमिका को जब उसके फरार होने की बात पता चली तो वह न्याय की गुहार लगाने महिला थाने पहुंच गई थी।

दरअसल, मामला जमुई के सिकंदरा का है, जहां 29 जून को प्रेमिका ने महिला थाने में इस मामले की शिकायत दर्ज करवाई थी। प्रेमिका ने अपने आवेदन में कहा था कि फेसबुक से वारसलीगंज के मसूदा गांव निवासी सीताराम महतो के पुत्र अवधेश कुमार से दोस्ती हुई। फिर धीरे-धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई। प्यार के परवान चढ़ते ही दोनों की मुलाकात भी शुरू हो गई और प्रेमी ने छुप-छुपाकर प्रेमिका से शादी भी कर ली। अपने अरमान पूरे करने के बाद प्रेमी उसे छोड़कर फरार हो गया। महिला थाने में आवेदन देने के बाद सोमवार को महिला थाना प्रभारी ने प्रेमी पक्ष के परिवार वालों को नोटिस देकर बुलाया था। परिवार वाले पहुंचे। दोनों पक्षों में सुलह करवाने का प्रयास किया जा रहा था। लड़की से शादी करने के लिए काउंसिलिंग चल रही थी, लेकिन परिवार वाले थे कि मानने को ही तैयार नहीं थे। इसके बाद प्रेमी को थाने ने हिरासत में रख लिया। दिन भर हिरासत की हवा खाने के बाद परिवार वालों ने कहा कि लड़की हमारी बहू है। हम इसे अपनी बहू मानते हैं। हम लोग इसकी शादी करवाएंगे और अपने ही साथ रखेंगे। इसके बाद ही प्रेमी को छोड़ा गया। इसके बाद महिला थाने में दुल्हा-दूल्हन की शादी की तैयारी हुई। बॉन्ड भरने के बाद प्रेमी ने प्रेमिका से थाने में ही शादी रचाई। मंगलसूत्र पहनाकर प्रेमी ने अपनी माशूका को पत्नी बना लिया। इसकी चर्चा पूरे इलाके में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *