भभुआ में चोरी का आरोप लगा करंट का दिया झटका, रॉड से पीटा, 3 दिनों तक बंधक बनाकर देते रहे यातना

बिहार के भभुआ शहर के मुंडेश्वरी सिनेमा हॉल के सामने राजेश किराना दुकानदार ने अपने स्टॉफ पर चोरी का आरोप लगा न सिर्फ उसे तीन दिनों तक बंधक बनाकर रखा, बल्कि करंट का झटका दिया और रॉड व लाठी से पीटकर अधमरा कर दिया। घटना की सूचना पर नगर थाने की पुलिस ने अधमरा स्टॉफ भोलू केशरी को मुक्त कराया और उसका इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों द्वारा उसका इलाज शुरू किया गया।

मामले में पुलिस ने घायल भोलू की मां के आवेदन पर दुकानदार राजेश केशरी सहित सात लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर दो आरोपितों प्रिंस कुमार व आकाश कुमार को गिरफ्तार किया है। घायल युवक भोलू केशरी वार्ड 16 निवासी की मां पूनम कुंवर ने मुकदमा कराया है। उसने पुलिस को बताया कि वह एक सप्ताह पहले चंदौली में अपनी बेटी के घर गई थी। वहां से जब वह मंगलवार को लौटी तो उसकी बेटी नेहा ने बताया कि भैया भोलू तीन दिन से दुकान से काम कर घर नहीं आए हैं।

उसने यह भी बताया कि उसका बेटा भोलू शहर के मुंडेश्वरी सिनेमा हॉल के सामने राजेश किराना दुकान में मजदूरी पर काम करता है। उसकी बेटी ने अपनी मां को यह भी बताया कि राजेश किराना दुकान के मालिक राजेश केशरी, उनका लड़का प्रिंस कुमार केशरी व आकाश केशरी अपने दोस्तों के साथ तलाशी लेने उसके घर आए और तलाशी लिए। वे लेाग बोल रहे थे कि भोलू ने उनकी दुकान में चोरी की है। इस बात की जानकारी मिलने पर वह राजेश केशरी के बाइपास रोड स्थित घर गई तो राजेश एवं उसके लड़के प्रिंस केशरी व आकाश केसरी उसके साथ गाली-ग्लोज करने लगे। जब वह उनके घर में जबरदस्ती गई तो देखा कि उसका लड़का भोलू बेहोश होकर कमरे में पड़ा है।

उसके बदन पर जख्म के निशान थे, जिसकी सूचना नगर थाना को दी। पूछने पर भोलू ने बताया कि 28 अगस्त की दोपहर से उक्त लोग उसे बंधक बनाकर अपने घर में रखे हैं तथा राजेश केशरी उर्फ गुड्डू केशरी, लड़को प्रिंस केशरी, आकाश केशरी, लड़कों के दोस्त धर्मराज उर्फ बौस, रवि कुमार व बिट्टू उर्फ अमन तीनों पंडाजी पोखरा, राजू उसे तीन दिनों से मारपीट कर रहे हैं। उसके बेहोश हो जाने पर उसे छोड़ देते थे। मारपीट करते हुए वे लोग कह रहे थे कि तुम्हारा किडनी निकालकर बेच देंगे, नहीं तो जमीन मेरे नाम पर लिख दो। एसडीपीओ सुनीता कुमारी ने कहा कि दुकानदार द्वारा बंधक बनाए गए युवक को मुक्त कराते हुए उसका इलाज सदर अस्पताल में कराया जा रहा है। घायल युवक की मां के आवेदन पर सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *