बोले सुशील मोदी ये करिये।

Spread the love

पटना. बिहार में अब तक 38 लाख लोगों ने आरोग्य सेतु एप डाउनलोड किया है, जिनमें पटना में सर्वाधिक 5.62 लाख और मुजफ्फरपुर में 1.81 लाख लोग शामिल हैं। यह जानकारी मंगलवार को केन्द्रीय इलेक्ट्रॉनिक, सूचना-प्राद्यौगिकी व संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ देश भर के आईटी मंत्रियों की हुई विडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने दी।

इस दौरान उन्होंने कोरोना संक्रमितों और क्वारैंटाइन किए गए लोगों की कलाई पर आरोग्यसेतु आधारित बैंड लगाने का सुझाव दिया ताकि उनके शरीर के तापमान, बीमारी के लक्षण और मूवमेंट की ट्रैकिंग व मॉनिटरिंग की जा सकें। उपमुख्यमंत्री की मांग पर केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि शीघ्र ही आरोग्य सेतु एप स्मार्ट फोन के साथ फीचर फोन पर भी डाउनलोड किया जा सकेगा।

मोदी ने बताया कि प्रवासी बिहारियों को 1-1 हजार की मदद हेतु मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना के कार्यान्वयन के लिए जारी लिंक की प्रक्रिया को झारखंड व यूपी के साथ साझा किया गया है। जियो फेंसिंग तकनीक पर आधारित इस लिंक को बिहार व नेपाल में रहने वाला कोई व्यक्ति क्लिक नहीं कर पायेगा। इसमें आधार व बैंक खाता बिहार का होना चाहिए तथा इसकी सेल्फी भी जियो टैंगिंग हैं जिसका जिलों में पदाधिकारी आधार के फोटो से मिलान करते हैं।

उपमुख्ययमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान 57 जेलों में बंद कैदियों से उनके 1836 परिजनों को ई-मुलाकात एप के जरिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कराई गई है। इसके साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्रों के बंद होने के बावजूद ‘आंगनबाड़ी पोर्टल’ के जरिए आधार व बैंक खातों का संग्रह किया गया है, जिससे एक करेाड़ से ज्यादा लाभार्थियों को लाभ मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.