बिहार सहित पूरे देश को शहीद राजीव कुमार शर्मा पर गर्व।

Spread the love

वैशाली:शहीद के बलिदान को देश और समाज कभी नहीं भूलेगा। शोक संतप्त परिवार को सान्त्वना दिया। महासभा हमेशा साथ रहेगी। जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले के सोपोर में शनिवार को हुए एक घातक आतंकी हमले में सीआरपीएफ के तीन जवान शहीद और दो घायल हो गए। शहीद जवानों में बिहार के वैशाली जिले के राजीव कुमार शर्मा (39 वर्ष) भी शामिल हैं। राजीव कुमार शर्मा के आतंकी हमले में शहीद होने की सूचना अरुणाचल प्रदेश में सीआरपीएफ में तैनात उनके छोटे भाई को दे दी गई। गांव में मां और पत्नी रहती हैं। सोपोर में हुए आतंकियों के हमले में शहीद हुए रसूलपुर गांव निवासी राजीव कुमार शर्मा की पोस्टिंग कश्मीर में थी। उन्होंने वर्ष 2000 में सीआरपीएफ में जॉइन किया था। वर्तमान में हेड कांस्टेबल के पद पर थे।
रसूलपुर गांव निवासी स्व. प्रेम चंद शर्मा के दो पुत्र राजीव कुमार शर्मा एवं संजीव कुमार दोनों भाई सीआरपीएफ में ही थे। ग्रामीण वीरेंद्र शर्मा ने बताया कि शनिवार को ही छोटे भाई संजीव से राजीव की बात हुई थी, लेकिन विडम्बना देखिए कि शाम होते-होते उसके शहीद होने की खबर आ गई। उन्होंने बताया कि प्रेम चंद शर्मा की मृत्यु 5 वर्ष पहले हो गई थी। वो कारपेंटर का काम करते थे। शहीद की पत्नी अन्नू शर्मा एवं मां सीता देवी को अभी इसकी खबर परिजनों ने नहीं दी है। शहीद के दो बच्चें हैं। उनसे बड़ी बच्ची 13 वर्ष की शिवांगी है तथा 8 वर्ष का लड़का आयुष है। सभी परिवार वाले घर रसूलपुर जिला वैशाली राज्य बिहार में ही रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.