पूरे देश में अब तक 29 हजार 680 केस।

Spread the love

नई दिल्ली: स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया- देश में संक्रमण का रिकवरी रेट बढ़कर 23% हुआ, 17 दिन से 28 जिलों में कोई केस नहीं
यह तस्वीर कोलकाता की एक झुग्गी बस्ती की है। यहां लोगों ने कोरोना महामारी को खत्म करने के लिए यज्ञ किया। महिलाओं ने भी हाथ जोड़कर भगवान से जल्द बीमारी खत्म करने की प्रार्थना की।
यह तस्वीर कोलकाता की एक झुग्गी बस्ती की है। यहां लोगों ने कोरोना महामारी को खत्म करने के लिए यज्ञ किया। महिलाओं ने भी हाथ जोड़कर भगवान से जल्द बीमारी खत्म करने की प्रार्थना की।
केंद्रीय चिकित्सा मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि 17 जिलों में पिछले 28 दिनों से एक भी पॉजिटिव नहीं मिला
मंगलवार को राजस्थान में 73, आंध्रप्रदेश में 82 और कर्नाटक में कोरोना के 8 नए केस मिले। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव कुमार ने मंगलवार शाम को बताया कि देश में एक्टिव केस 21632 हैं। पिछले 24 घंटे में 684 नए मरीज मिले हैं। हमारा रिकवरी रेट 23.83 फीसदी हो गया है। 17 ऐसे जिले हैं जहां पहले केस आए थे, लेकिन पिछले 28 दिनों में यहां कोई मामले सामने नहीं आए हैं। उन्होंने बताया कि आईसीएमआर का कहना है कि कोरोना के लिए कोई थैरेपी नहीं है। ऐसे में प्लाज्मा थैरेपी को इसके लिए इलाज नहीं कहा जा सकता है। आईसीएमआर ने सिर्फ अध्ययन करने के लिए इस थैरेपी को शुरू किया है। जब तक इसकी प्रभाविकता साबित नहीं होगी, इसको लेकर किसी प्रकार का दावा नहीं किया जाना चाहिए।

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 29हजार 680हो गई है। ये आंकड़े covid19india.org और राज्य सरकारों से मिली जानकारी के अनुसार हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में 29 हजार 435संक्रमित हैं। इनमें से 21 हजार 632 का इलाज चल रहा है, 6868 ठीक हुए हैं और 934 की मौत हुई है।

‘मई तकएंटीबॉडी टेस्ट किट बनानाशुरू कर देंगे’

केंद्रीय चिकित्सा मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मंगलवार कोबताया कि हम मई तक भारत में आरटी-पीसीआर और एंटीबॉडी टेस्ट किट बनानाशुरू कर देंगे। इनकेलिए हमारी तैयारी अंतिम चरण में हैं। आईसीएमआर से मंजूरी मिलने के बाद हम उत्पादन शुरूकरेंगे। इनकीमदद से हमने 31 मई से रोजाना एक लाख टेस्ट करने का लक्ष्य रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.