उत्तर प्रदेश के इस आईपीएस की चाल से पकड़े जा रहे तबलीगी जमात शिरकत के लोग ।

Spread the love

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में तबलीगी जमात में शिरकत कर बिना मेडि‍कल परीक्षण कराए रह रहे लोगों की सूचना देने वाले को 10 हजार रुपए को इनाम दिया जाएगा ऐसी घोषणा जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने की है। उन्होंने बताया कि जिले के संक्रमित मरीजों को खुर्जा के जटिया राजकीय अस्पताल के कोविड एक वार्ड मे शिफ्ट किया गया है।
तो वहीं जिलाधिकारी अरविन्द्र कुमार ने बताया कि बुलन्दशहर के जहांगीराबाद कस्बे में जमातियों के सम्पर्क में रहें शहर मुफती की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर नौ हो गई है। उन्होंने बताया कि बुलन्दशहर से कोरोना टेस्ट के लिए भेजे गए 120 सेम्पिलों में से 118 जमातियों के थे ,जबकि दो अन्य व्यक्तियों के थे। शुक्रवार रात 33 लोगों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें शहर मुफती की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वह लोध राजपूतान जहांगीराबाद का निवासी हैं। संक्रमित मुफ्ती निजामुद्दीन तबलीगी जमात से आए लोगों के सम्पर्क में रहे था।

अरविन्द्र कुमार ने ये भी बताया कि जिले में कोरोना वायरस का पहला मरीज 29 मार्च को मिला। वह सिकंदराबाद तहसील क्षेत्र के वीर खेड़ा निवासी था। उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के दो दिन बाद उसकी पत्नी वक मां की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। इसके बाद तबलीगी जमात में संक्रमित लोगों के चिन्हित अभियान के दौरान भेजे गए सेम्पिलो की रिपोर्ट के टुकड़ों में प्राप्त होने के दौरान गत छह अप्रैल को 21 लोगों के सेंंंपल टेस्ट रिजल्ट आए जिनमें से दो लोग पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि 19 निगेटिव पाए गए थे। सात अप्रैल को 38 जमातियों की रिपोर्ट प्राप्त हुई इनमें तीन पॉजिटिव व 35 नेगेटिव पाए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.