कब समझेंगे मोदी जी? इस मुद्दे को उठाने के लिए मांझी साहब का आभार- पप्पू यादव

वैक्सीन सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर होने पर विवाद बढ़ता जा रहा है। विपक्ष के हमलों के बाद अब अपने भी विरोध में उतर आए हैं। बिहार में NDA सरकार में साझीदार हम पार्टी ने भी निशाना साधा है। इस मुद्दे पर पार्टी के सुप्रीमो जीतन राम मांझी ने बीते दिन दो ट्वीट किए हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने बीते रविवार को लिखा कि ‘को-वैक्सीन का दूसरा डोज लेने के बाद मुझे प्रमाण-पत्र दिया गया, जिसमें प्रधानमंत्री की तस्वीर लगी है। देश में संवैधानिक संस्थाओं के सर्वेसर्वा राष्ट्रपति हैं। इस नाते उसमें राष्ट्रपति की तस्वीर होनी चाहिए। वैसे तस्वीर ही लगानी है तो राष्ट्रपति के अलावा PM और CM की भी तस्वीर हो।’ दरअसल, पूर्व CM जीतन राम मांझी ने रविवार को कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज लिया है।

मांझी ने दोबारा ट्वीट कर लिखा कि-

जीतन राम मांझी यहीं नहीं रुकें। उन्होंने सोमवार को भी एक ट्वीट किया, जिसमें लिखा, ‘वैक्सीन के सर्टिफिकेट पर यदि तस्वीर लगाने का इतना ही शौक है तो कोरोना से हो रही मृत्यु के डेथ सर्टिफिकेट पर भी तस्वीर लगाई जाए। यही न्याय संगत होगा।’

पप्पू यादव ने किया माझी के ट्वीट का समर्थन-

पप्पू यादव ने बीते दिनों ट्वीट कर माझी को समर्थन देते हुए आभार दिया उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि-‘अगर तस्वीर हो तो राष्ट्रपति की हो। बात सही है PM के साथ तो राज्यों के CM की भी तस्वीर होनी चाहिए।आखिर संघीय व्यवस्था में मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री के सहयोगी होते है उनके मातहत नहीं होते। यह कब समझेंगे नरेंद्र मोदी जी?NDA में रहते हुए इस मुद्दे को उठाने के लिए मांझी साहब को आभार!’

गौरतलब है कि बिहार में भी कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में टीकाकरण के प्रमाण पत्र पर पीएम मोदी की तस्वीर को लेकर सहयोगी दल लगातार सरकार पर निशाना साध रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *