तेजस्वी ने एक बार फिर से धरना प्रदर्शन पर उतरे,जानिए…

नियुक्ति को लेकर प्रदर्शन कर रहे शिक्षक अभ्यर्थियों को पटना के जिला अधिकारी चंद्र शेखर सिंह ने गर्दनीबाग में धरना में बैठने कीअनुमति दे दी है ।दरअसल नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का कॉल जाने पर पटना के डीएम ने ये अनुमती दी है पटना इको पार्क में धरना दे रहे शिक्षक अभ्यर्थियों से मिलने तेजस्वी गए। और वहाँ ये भी कहा था की अगर सरकार ने इन कैंडिडेट को प्रदर्शन करने नहीं दिया जाएगा, तो मजदूर को तेज ठण्ड में उन्हें बैठना पड़ेगा। वो भी इस आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।

बता दे शिक्षक अभ्यर्थियों के मुद्दे को लेकर तेजस्वी यादव मैदान में उतर गए।वे सबसे पहले ईको पार्क जाकर आवाज बुलंद किया।इसके बाद गर्दनीबाग धरना स्थल पर जाकर नीतीश सरकार की जमकर खिंचाई की। तेजस्वी ने कहा कि हमारा सबसे बड़ा मुद्दा है पढ़ाई, दवाई, कमाई, सिंचाई, सुनवाई और कारवाई। हम हमेसा बेरोजगारों, छात्रों, शिक्षकों, नौजवानों और किसानों के समर्थन में हूँ और हमेसा रहूँगा।

कल रात में इतनी ठंड में आंदोलनरत शिक्षक अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज कर किया गया। उनकी रसोई और पंडाल को भी उखाड़ दिया गया। साथ ही साथ कितनों को गिरफ़्तार किया गया। जिन्हें हमने रात में छुड़वाया। प्रशासन ने गर्दनीबाग धरना स्थल पर उन्हें धरने की अनुमति नहीं दी जिसके चलते सभी अभ्यर्थी टिकट लेकर इको पार्क पहुंच गए। शाम को वहाँ पहुँचा और मुख्य सचिव, डीजीपी और डीएम से बात कर अनुमति मिलने के बाद रात्रि में पैदल मार्च कर उन्हें दोबारा धरना स्थल पर पहुँचा गया।
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का कॉल जाने पर पटना के डीएम ने ये अनुमती दी है पटना इको पार्क में धरना दे रहे शिक्षक अभ्यर्थियों से मिलने तेजस्वी ने ये भी कहा था कि अगर सरकार ने इन कैंडिडेट को प्रदर्शन करने नहीं दिया जाएगा। तो मजदूर उन्हें तेज ठण्ड में उन्हें बैठना पड़ेगा। वो भी इस आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।
हाईकोर्ट के आदेश के बगैर अभी तक 94000 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र नहीं दिया। इतना ही नहीं तेजस्वी यादव ने साफ़ तौर पर कहा की शिक्षा मंत्री कहा दुबके है और बिहार में दो- दो उपमुख्यमंत्री है वो भी इसपर कोई चर्चा नहीं कर रहे है। नीतीश सरकार की यह दबंगई हम चलने नहीं देंगे। उन्होंने कहा की मैं बिहार के युवाओं को नौकरी देने के लिए प्रतिबद्व हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *