पटना समेत पूरे बिहार में सुहागिन महिलाओं ने धूमधाम से मनाया वट सावित्री व्रत, कोरोना गाइडलाइन की उड़ीं धज्जियां

राजधानी पटना समेत बिहार के सभी जिलों में गुरुवार को धूमधाम से वट सावित्री व्रत मनाया गया। पति की लंबी उम्र की कामना के लिए मनाए जाने वाले  वट सावित्री व्रत को लेकर महिलाओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं। बिहार मास्क लगाए ही महिलाएं पूजा करती दिखीं।  ज्येष्ठ मास की अमावस्या के दिन मनाए जाने वाले पर्व को लेकर महिलाएं अहले सुबह से विभिन्न मंदिरों और वट वृक्ष के नीचे पहुंचकर  पूरी आस्था, श्रद्धा और भक्ति के साथ पूजा-अर्चना करते हुए दिखीं। ऐसी मान्यता है कि इस दिन सावित्री ने अपने पति के प्राण वापस लौटाने के लिए यमराज को विवश कर दिया था। इस व्रत वाले दिन वट वृक्ष का पूजन कर सावित्री-सत्यवान की कथा सुनी जाती है।

इस दिन शादीशुदा महिलाएं सुबह में जल्दी उठकर, स्नान कर ,सोलह शृंगार कर अपने पति की लंबी आयु के लिए वट वृक्ष के नीचे पहुंचकर उनका पूजन करती हैं। मान्यता है कि वटवृक्ष में सभी देवताओं का वास होता है। इस वृक्ष के नीचे सावित्री ने अपनी कठोर तपस्या से मृत पति सत्यवान के प्राण को यमराज से वापस लेकर उन्हें जीवित कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *