युवराजों की हरकतों से परेशान है राजद, टूट जल्द…

बिहार में सियासत एक बार फिर गर्मा चुकी है। वजह है बीजेपी सासंद सुशील कुमार मोदी का लालू परिवार पर कड़ी टिप्पणी। दरअसल,उनके एक बयान के अनुसार “राजद के विधायक पार्टी में घुटन महसूस कर रहे हैं और आगे उन्होंने कहा कि जल्द ही राजद में भूकंप आने के आसार हैं।” सुशील कुमार मोदी ने पार्टी के प्रमुख और लालू के बड़े लाल तेज प्रताप और छोटे लाल तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि दोनों राजकुमारों के वजह से भूकंप आने के पूर्ण संभावना है। इसी बयान के आधार पर अब जेडीयू और राजद के नेताओं ने एक-दूसरे पर निशाना साधा है।

जेडीयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने मीडिया कर्मीयों के साथ बातचीत में आरजेडी के अस्तित्व पर सवाल उठाते हुए लालू यादव के ऊपर भी परोक्ष बयान दिया है. आलोक ने कहा, ‘ये पार्टी ही असंवैधानिक है। इस पार्टी का गठन कब हुआ था, लालू प्रसाद यादव जब जेल जा रहे थे और राबड़ी देवी मुख्यमंत्री बनी, और भूकम्प तो आना है क्योंकि परिवार के लोगों का एक दूसरे से बन नहीं रहा है।’ आरजेडी की तरफ से इस पर करारा जवाब दिया गया है।

जदयू नेता व प्रवक्ता अजय आलोक के बयान के जवाब में राजद की तरफ से भी प्रतिक्रिया सामने आई है। आरजेडी नेता ने सुशील मोदी के बयान को लेकर कहा, ‘सुशील मोदी की बात का कोई वैल्यू नहीं है। उनकी ना कोई सुनता है और ना ही पढ़ता है। असल में एनडीए में भूकंप आने वाला है, तो ये महागठबंधन की बात कर रहे हैं.’

आपको बताते चलें, जिस तरह से लोजपा के नेता ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की, उससे राजनीतिक गलीयारों में कयासें तेज हो गई थी, क्योंकि राजनीति में कोई भी मुलाकात बेवजह नहीं होती है, तो वहीं उसके बाद वामपंथी नेता कन्हैया कुमार के प्रदेश के मंत्री से मिलने की घटना अभी चर्चा में बनी हुई है, जिसको नीतीश कुमार ने बताया कि ये कोई राजनैतिक मुलाकात नहीं थी, वो अपनी क्षेत्र की कुछ परेशानियों को लेकर हमारे पास आए थे। बहारहाल, ये देखना होगा कि आने वाले दिनों में बिहार की राजनीति में क्या कुछ उथल-पुथल होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *